यौन शोषण मामले में राम रहीम दोषी करार, हिरासत में लिए गए बाबा

  • 25 Aug 2017
  • Reporter: समाचार फर्स्ट

साध्वी यौन शोषण मामले में CBI की स्पेशल कोर्ट ने फैसला सुना दिया है। कोर्ट ने डेरा प्रमुख गुरमीत राम रहीम को दोषी करार दिया है। इस मामले में 28 अगस्त को सज़ा सुनाई जाएगी। फिलहाल गुरमीत राम रहीम को हिरासत में ले लिया गया है।

कोर्ट के विशेष जज जस्टिस जगदीप सिंह ने फैसला सुनाया है। इस दौरान कोर्ट में कुल 7 लोग मौजूद थे। जिनमें बाबा राम रहीम, वकील और सीबीआई के अधिकारी मौजूद थे। जस्टिस जगदीप सिंह ने पूरे आधे घंटे तक फैसला पढ़ा।

शुक्रवार को डेरा प्रमुख अपने लाव-लश्कर के साथ पंचकूला की अदालत में पेश हुए। इस दौरान कोर्ट परिसर के एक किलोमीटर दूर ही समर्थकों को रोक दिया गया था। बाबा के समर्थक अभी भी पंचकूला में पटे पड़े हैं। स्थिति से निपटने के लिए सुरक्षा बल हाई-अलर्ट पर हैं।

गौरतलब है कि डेरा सच्चा सौदा के बाबा राम रहीम पर यौन शोषण के आरोपों की कहानी 2002 से शुरू हुई थी। उन्हीं के डेरे की एक कथित साध्वी ने उन पर यौन शोषण का आरोप लगाते हुए तत्कालीन प्रधानमंत्री अटल बिहारी बाजपेयी को एक गुमनाम चिट्ठी लिखी थी। पीड़िता ने ये चिट्ठी अटल बिहारी बाजपेयी के साथ हरियाणा और पंजाब के तत्कालीन मुख्यमंत्री, कुछ आला अधिकारियों और कुछ मीडिया संस्थानों को भी भेजी थी, जिसके बाद मामला दर्ज किया गया था।