शिमलाः हरियाणा रोडवेज कर्मचारियों के समर्थन में उतरी CITU, प्रदेश भर में किया प्रदर्शन

  • 20 Oct 2018
  • Reporter: पी. चंद, शिमला

हरियाणा में पिछले कई दिनों से हड़ताल पर चल रहे रोडवेज के कर्मचारियों के समर्थन में सीटू उतर आई है। शनिवार को सीटू ने डीसी शिमला के जरिए हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर के नाम एक ज्ञापन भेजा है। सीटू ने हरियाणा सरकार को कर्मचारी विरोधी बताते हुए कहा कि रोडवेज के कर्मचारियों पर अमानवीय कार्रवाई की जा रही है। सीटू कार्यकर्ताओं ने डीसी ऑफिस के बाहर धरना प्रदर्शन किया और केंद्र और हरियाणा सरकार पर रोडवेज कर्मचारियों के शोषण का आरोप लगाया।

बता दें, कि हरियाणा के हिसार, कैथल, कुरुक्षेत्र, सिरसा, भिवानी, जींद सहित सभी स्‍थानों से हरियाणा रोडवेज की बसें नहीं चल रही हैं। वहीं, हिमाचल प्रदेश को आने वाली बसें डिपो में खड़ी हो गईं हैं। ऐसे में हिमाचल के यात्रियों को भी इससे परेशानियां झेलनी पड़ रही है।

सीटू ने कहा कि आज देश भर में हरियाण की खट्टर सरकार की ट्रांसपोर्ट्स कर्मचारियों के प्रति दमनकारी नितियों के खिलाफ प्रदर्शन किया जा रहें हैं। हिमाचल में भी सभी मुख्यालों में आज प्रदर्शन किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि खट्टर सरकार प्रदर्शन कर रहे ट्रांसपोर्ट कर्मचारियों पर लाठियां और गोलियां चला रही है और कई कर्मचारियों को निष्काषित किया जा रहा है।

सीटू ने कहा कि कर्मचारियों ने हरियाणा ट्रांसपोर्ट को खड़ा करने में बहुत बड़ा योगदान दिया है और देश भर में हरियाणा ट्रांसपोर्ट अव्वल है और उसका अब निजीकरण किया जा रहा है। केंद्र सरकार और हरियाणा सरकार ने साजिश के तहत ट्रांसपोर्ट का निजीकरण कर रही है। जिसके खिलाफ दर्शन किया गया और मुख्यमंत्री को ज्ञापन देकर हरियाणा के मुख्यमंत्री से आग्रह करें ताकि कर्मचारियों को दमन बंद करने की मांग उठाई जाए।