CM के आदेश पर 6000 करोड़ के घोटाले में दर्ज हुई FIR

  • 13 Mar 2018
  • Reporter: समाचार फर्स्ट

हिमाचल प्रदेश का बहुचर्चित इंडियन टैक्नोमैक उद्योग का महाघोटाला खूब चर्चा में है। सिरमौर के पांवटा साहिब के माजरा में स्थित इंडियन टेक्नोमैक औद्योगिक इकाई में अब तक आंके गए 6,000 करोड़ के घोटाले में मुख्यमंत्री जयराम केआदेश के बाद बीती रात पुलिस ने आबकारी एवं कराधान विभाग की शिकायत पर आखिरकार एफआईआर दर्ज कर ली गई।

पुलिस ने कंपनी प्रबंधन के सीएमडी समेत 3 निदेशकों को आरोपी नामजद करते हुए उनके खिलाफ मामला दर्ज किया है। बताया जाता है कि सीआईडी में भी पहले से ही कुछ एफआईआर कंपनी के निदेशकों के खिलाफ दर्ज हुई है। पुलिस ने यह कार्रवाई आबकारी एवं कराधान विभाग द्वारा 14 पन्नों की सौंपी गई शिकायत के आधार पर की है। 

विभाग ने दर्ज शिकायत में 2175 करोड़ 51 लाख के टैक्स फ्रॉड की बात कही है। साथ ही बैंकों के 2300 करोड़ के लोन फ्रॉड का जिक्र भी किया गया है। इसके अलावा आयकर विभाग के 780 करोड़ रुपये की कंपनी पर देनदारी बताई गई है।

पुलिस के अनुसार विभाग की शिकायत पर कंपनी के सीएमडी राकेश शर्मा, कंपनी के निदेशक विनय शर्मा, रंगनाथन श्रीनिवासन और अश्विनी कुमार के खिलाफ IPC की धारा 420, 467, 468, 470 एवं 31 व 34 के तहत मामला दर्ज किया है।