हमीरपुर: निष्कासित नेता के बयान से भोरंज कांग्रेस ख़फा, की जांच की मांग

  • 13 Mar 2018
  • Reporter: नवनीत बत्ता

हमीरपुर की युवा रैली में निष्कासित नेता की बयानबाज़ी से भोरंज कांग्रेस ख़फा हो गई है। भोरंज कांग्रेस का कहना है कि प्रदेश अध्यक्ष सुक्खू ने उन्हें पार्टी विरोधी काम करने पर निष्कासित किया था, इसके बावजूद भी युवा रैली में उन्हें जानबूझ कर बोलने का मौका दिया गया। उन्होंने जो अभद्र भाषा का इस्तेमाल किया, उसकी हम कड़ी निंदा करते हैं और जिसने भी उन्हें मंच में बुलाया है उनपर जांच की मांग करते हैं।

यही नहीं, भोरंज कांग्रेस ने निष्कासित नेता प्रोमिला पर घूसखोरी के आरोप भी लगाए। कांग्रेस ने कहा कि उक्त नेत्री ने बीजेपी से सांठ-गांठ और तबादला उद्योग के चलते बहुत सी समंत्ति जुटाई है, जिसकी जांच होनी चाहिए। कांग्रेस ने चेतावनी दी की यदि नेत्री अपनी हरकतों से बाज़ नहीं आईं तो अकूत संपत्ति पर ईडी से जांच करवाई जाएगी।

ग़ौरतलब है कि सोमवार को हमीरपुर में युवा कांग्रेस ने रैली निकाली थी, जिसमें विधायक राजेंद्र राणा और राष्ट्रीय युवा अध्यक्ष के सामने निष्कासित नेत्री प्रोमिला ने खुलकर प्रदेश अध्यक्ष सुखविंदर सिंह सुक्खू पर हमला बोला। उन्होंने कहा था कि कांग्रेस किसी के बाप या दादा की पार्टी नहीं है, जो ईमानदार लोगों को निकाल दे। उनके इस बयान ने साबित कर दिया कि हमीरपुर में कांग्रेस के दो गुट बन चुके हैं, जो लोकसभा चुनावों के मद्देनज़र आपसी जंग को एक बार फिर जगजाहिर करते नज़र आ रहे हैं।

ये भी पढ़ें:- हमीरपुर में दो गुटों में बंटी कांग्रेस, सुक्खू-राणा वॉर शुरू!