CBSE पेपर लीक केस: तीनों गिरफ्तार आरोपियों को स्कूल प्रबंधन ने किया निलंबित

  • 10 Apr 2018
  • Reporter: रविंदर कुमार

सीबीएसई पेपर लीक मामले में डीएवी पब्लिक स्कूल ने अपने तीनों आरोपी कर्मचारियों को सस्पेंड किया है। स्कूल के एक अध्यापक, क्लर्क और चपरासी पर पेपर लीक करने के आरोप लगे थे। स्कूल प्रबंधन ने एक समिति का गठन करके कर्मचारियों को सस्पेंड करने का निर्णय लिया।

सीबीएसई 12वीं का इकोनॉमिक्स का पेपर लीक करने के मामले में पुलिस ने मास्टरमाइंड आरोपी राकेश शर्मा ने व्हाट्सएप पर सबसे पहले महिला रिश्तेदार के मोबाइल पर हाथ से लिखे पेपर की कॉपी भेजी और फिर महिला ने ही इसे फार्वर्ड किया। बताया जाता है राकेश पीएचडी स्कॉलर है। ऊना के संतोषगढ़ निवासी राकेश पिछले 10 सालों से डीएवी सेंटेनरी पब्लिक स्कूल में पढ़ा रहा था। वहीं, ऊना के जखेड़ा निवासी अमित शर्मा पिछले 16 साल से डीएवी स्कूल में क्लर्क हैं।

गौरतलब है कि 7 अप्रैल को सीबीएसई पेपर लीक मामले में क्राइम ब्रांच दिल्ली की टीम ने हिमाचल के ऊना पहुंचकर तीनों आरोपियों को गिरफ्तार किया था। गिरफ्तार आरोपियों में एक शिक्षक, क्लर्क और चपड़ासी शामिल है। आरोप है कि इन्हीं लोगों ने बाहरवीं कक्षा का पेपर लीक किया था। 28 मार्च 2018 को इकोनोमिक्स का पेपर हाथों से लिख कर एग्जाम से 72 घंटे पहले कथित रूप से लीक किया गया था।