BDO अंब नें माउंट एवरेस्ट पर फहराया जीत का परचम, दिया ये संदेश

  • 22 May 2018
  • Reporter: समाचार फर्स्ट

हिमाचल के युवा अधिकारी बीडीओ अंब सलीम आजम ने विश्व की सबसे ऊंची चोटी माऊन्ट एवरेस्ट फतेह कर जीत का परचम लहरा दिया है।  सलीम आजम माउंट एवरेस्ट पर 'बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ' मिशन का संदेश देकर इतिहास रच दिया। 12  मई को सलीम आजम माऊन्ट एवरेस्ट के लिए रवाना हुए थे और 20 मई को 17,600 फुट की ऊंचाई पर माऊन्ट एवरेस्ट के बेस कैंप में भारत सरकार द्वारा चलायी जा रही उक्त मुहिम का संदेश दिया है।

बता दें कि गत 12 मई को एडीसी ऊना कृतिका कुलहरी ने जिला ऊना के जांबाज अधिकारी सलीम आजम को हरी झंडी देकर माऊन्ट एवरेस्ट के लिए रवाना किया था। यह पहला मौका है कि किसी भारतीय अधिकारी ने अंतर्राष्टीय स्तर पर विश्व की सबसे ऊंची पर्वत श्रृंखला को फतह कर वहां पर बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ मिशन जैसी  सरकार द्वारा चलायी जा रही विशेष मुहिम का संदेश दिया है।

शिमला के छात्र ने भी किया माउंट एवरेस्ट फतेह

वहीं, शिमला के विशप कॉटन स्कूल के छात्र संदीप मनसुखानी ने माउंट एवरेस्ट पर परचम लहराया। माउंट एवरेस्ट की 8,848 मीटर और 29,029 ऊंची चोटी पर संदीप ने फतेह हासिल कर अपने स्कूल का नाम रोशन किया है। 21 मई को संदीप ने ये कारनामा करके दिखाया है।