राहुल के नेतृत्व वाले बयान पर वीरभद्र ने दी सफाई, कहा-साज़िश के तहत हुआ सबकुछ

  • 08 Jul 2018
  • Reporter: नवनीत बत्ता

पू्र्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह ने राहुल गांधी को लेकर दिए गए बयान पर सफाई पेश की है। बड़सर में वीरभद्र सिंह ने कहा कि ये किसी सोची समझी साज़िश के तहत किया गया है। वे इन मीडिया की सुर्खियों को सीरियस लेंगे और कोर्ट में मानहानि का दावा करेंगे। किसी व्यक्ति विशेष ने इसे सोची समझी साज़िश के तहत अंजाम दिया है और उसके खिलाफ कार्रवाई होकर रहेगी।

याद रहे कि शनिवार को मीडिया रिपोर्ट्स में वीरभद्र सिंह का राहुल को लेकर बयान सुर्खियां बटोरे हुए था। सूत्रों के मुताबिक, वीरभद्र सिंह ने कहा था कि राहुल गांधी को पार्टी कार्यकर्ताओं के बीच जाना पड़ेगा, उनसे नए सिरे से राजनीतिक संबंध बनाने होंगे। चूंकि, कहीं न कहीं पार्टी के अधिकांश नेता राहुल के नेतृत्व में काम करने से हिचकिचा रहे हैं। बीते विधानसभा चुनाव में पार्टी की हार के लिए हाईकमान जिम्मेवार है। पार्टी हाईकमान ने विधानसभा चुनाव में ऐसे लोगों को टिकट बांटे, जिनका लोग नाम तक नहीं जानते।

विधायक को वीरभद्र को जवाब

ऊना के विधायक सत्तपाल रायजादा के बयानों को पलटवार करते हुए वीरभद्र सिंह ने कहा कि 'रायजादा अभी नादान हैं और उन्हें कुछ नहीं पता'... पार्टी में काम करते हुए मुझे उम्र हो गई और मैं कोई बच्चा नहीं जो किसी के बोलने पर चलूंगा। याद रहे कि ऊना से विधायक सत्तपाल रायजादा ने बयान में कहा था कि वीरभद्र सिंह सुजनापुर विधायक राजेंद्र राणा के इशारों पर काम करते हैं।

जीते हुए उम्मीदवार को मिलेगा टिकट

वीरभद्र सिंह ने कहा कि लोकसभा चुनावों के लिए कांग्रेस पूरी तरह तैयार है। हमीरपुर समेत सभी क्षेत्रों में कांग्रेस पूरा जोर लगा रही है और इसबार टिकट उसी को मिलेगा जिसमें जीतने की क्षमता होगी। विधानसभा चुनावों में कुछ लोगों की बदौलत हार मिली और इस बार ऐसा नहीं होगा। साथ ही उन्होंने सरकार की कार्यप्रणाली पर भी सवाल उठाए।