सुक्खू को मिला रजनी पाटिल का साथ, वीरभद्र की बढ़ी टेंशन!

  • 12 Jul 2018
  • Reporter: नवनीत बत्ता, हमीरपुर

बिलासपुर में आयोजित कार्यकर्ता सम्मेलन में प्रदेश कांग्रेस प्रभारी रजनी पाटिल ने PCC चीफ सुखविंदर सिंह सुक्खू को बड़ी राहत दी है और लगे हाथ वरिष्ठ नेता वीरभद्र सिंह की टेंशन बढ़ा दी है। रजनी पाटिल ने मीडिया से बातचीत में कहा कि किसी के भी दबाव में सुखविंदर सिंह सुक्खू प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष पद से नहीं हटाए जाएंगे। इस दौरान पाटिल ने वीरभद्र सिंह को वरिष्ठ नेता बताते हुए अनुशासन फॉलो करने की नसीहत भी दी।

मीडिया के एक सवाल के जवाब में रजनी पाटिल ने कहा कि वीरभद्र सिंह पार्टी के वरिष्ठ नेताओं में से एक हैं। लिहाजा, वह उनके संबंध में कुछ भी टिप्पणी नहीं करेगीं। लेकिन वह मानती हैं कि नेता किसी भी स्तर का हो, वह पार्टी से बड़ा नहीं है। पाटिल ने कहा कि किसी भी बात को पार्टी-प्लेटफॉर्म पर रखना उचित होता है। कोई नेता चाहें कितना भी बड़ा क्यों ना हो वह डायरेक्ट अपने शिकवे-शिकायतें मीडिया में नहीं रख सकता। एक प्रक्रिया के तहत वह हम लोगों को अवगत करा सकता है। जहां तक वीरभद्र सिंह की बात है, वह तो अपनी बात राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी के पास सीधा रखने में सक्षम हैं। इसी दौरान उन्होंने यह भी कहा कि सुक्खू किसी के भी दबाव में प्रदेश अध्यक्ष पद से नहीं हटेंगे।

लोकसभा चुनाव के लिए टिकट आवंटन पर रजनी पाटिल ने कुछ खास नहीं बोला। उन्होंने कहा कि चूंकि हिमाचल में उनका यह पहला दौरा है, ऐसे में टिकट आवंटन के संबंध में किसी भी तरह की चर्चा जल्दबाजी होगी। प्रदेश कांग्रेस प्रभारी ने बताया कि इस संबंध में कार्यकर्ताओं की राय ली जा रही है और इसका बकायदा एक रिपोर्ट तैयार की जा रही है। पूरी रिपोर्ट हाईकमान को सौंपी जाएगी।