धर्मशाला में कांग्रेस ने बनाई रणनीति, निगम पार्षदों को भी दिलाई शपथ

  • 04 Oct 2019
  • Reporter: मनोज धीमान

धर्मशाला उपचुनाव में विजय यात्रा के लिए कांग्रेस की तैयारियां जोरों पर हैं। इसी कड़ी में प्रदेश अध्यक्ष से लेकर सीएलपी लीडर तक धर्मशाला में डटे हैं। धर्मशाला में इस बार नया युवा चेहरा दिया गया है जिसके चलते तमाम वरिष्ठ नेता अपनी आगवानी में चुनावी समीकरण देख रहे हैं।

आज नगर निगम धर्मशाला के चुने हुए पार्षदों ने आज बैठक कर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कुलदीप सिंह राठौर संग रणनीति बनाई। पार्टी के कुल 17 पार्षदों में से 14 पार्षद नगर निगम में कांग्रेस के हैं। सभी पार्षदों ने कांग्रेस प्रत्याशी विजय इंद्र कर्ण को जिताने का प्रण लेते हुए नगर निगम क्षेत्र से पार्टी को भारी बढ़त दिलाने का भरोसा पार्टी अध्यक्ष को दिया।

इस दौरान कुलदीप सिंह राठौर ने कहा कि कांग्रेस पार्टी ने धर्मशाला को नगर निगम दिया, स्मार्ट सिटी का प्रोजेक्ट दिया साथ ही धर्मशाला को राजधानी का दर्जा देकर अधिमान दिया और दर्जनों प्रोजेक्ट दिए लेकिन भाजपा सरकार आने के बाद सभी विकास के कार्य बंद कर दिए। कांगड़ा ज़िला की जमकर अनदेखी हो रही है। विकास योजनाओं को राजनीतिक द्वेष के चलते भाजपा सरकार ने बंद कर दिया है।

उन्होंने कहा कि जनता का भाजपा के जुमलों से मोह भंग हो चुका है और परिवर्तन निश्चित है।बैठक में  पार्षद नीनू शर्मा,सविता कार्की,रजनी व्यास,सरोज गुलेरिया,सुषमा रंधावा,विक्रम खनका,माया देवी, बबिता, स्वर्णा देवी ने भाग लिया।