परिवहन मंत्री की पत्नी के पर्स से लाखों रुपये और गहने चोरी

  • 08 Oct 2019
  • Reporter: नवनीत बत्ता

परिवहन मंत्री की पत्नी का ढाई लाख रुपये और गहनों के चोरी होने का मामला अब प्रदेश में कांग्रेस के हाथ में एक मुद्दा बनता नज़र आ रहा है। कांग्रेस प्रवक्ता प्रेम कौशल ने कहा कि यह सभी जांच का विषय है कि एक तरफ जहां प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी डिजिटल इंडिया और कैशलेस इंडिया की बात करते हैं, वहीं दूसरी तरफ मंत्रियों के परिवार भारी-भरकम रकम अपने पर्सों में लेकर कैसे घूम रहे हैं। उन्होंने कहा कि इतना ही नहीं प्रदेश में चुनाव भी चल रहे हैं ऐसे में इतनी बड़ी राशि को अपने साथ लेकर चलना पूरी तरह गैरकानूनी माना जा सकता है।

उन्होंने कहा कि इस मामले की कांग्रेस पार्टी मांग करती है कि निष्पक्षता से जांच होनी चाहिए कि यह पैसा किस मकसद से उनके पास था और इतना पैसा क्या कोई व्यक्ति विशेष अपने साथ लेकर चल सकता है या नहीं चल सकता है। बताते चलें कि परिवहन मंत्री गोविंद ठाकुर की पत्नी रजनी ठाकुर का कार से एक पर्स चोरी हुआ जिसमें ढाई लाख रुपये और लाखों रुपए की गहने थे। जानकारी के अनुसार ड्राइवर कार में बैठा था और इसी बीच शातिर चोर ने ड्राइवर को 10-10 रुपये के नोट गिरने का झांसा देकर इस वारदात को अंजाम दिया। यह सारा मामला सेक्टर 32 चंडीगढ़ थाना में अज्ञात चोर के नाम से दर्ज़ किया गया है। अब सवाल ये उठ रहे हैं कि एमडी एचआरटीसी की गाड़ी में मंत्री की पत्नी क्या कर रही है। किस नियम के तहत सरकारी वाहन का इस्तेमाल किसी निजी काम के लिए इस्तेमाल किया जा रहा है?

पुलिस के अनुसार मनाली के गांव सिमसा निवासी परिवहन मंत्री गोविंद ठाकुर की पत्नी रजनी ठाकुर ने शिकायत दी है कि बीते रोज दोपहर को कार से सेक्टर 86 हेड मास्टर सैलून में आई थी कार नंबर (HP-66-0001) एक ड्राइवर ने पार्किंग में गाड़ी खड़ी कर दी थी।  सैलून से करीब चार घंटे बाद वापस हिमाचल भवन पहुंचीं। वहां जाकर पता चला कि कार में रखा बैग गायब है। बैग में 2.50 लाख रुपये, मेटल नेकलेस और कुछ जरूरी कागजात थे। पुलिस ने ड्राइवर के साथ पूछताछ करने के साथ ही सीसीटीवी फुटेज को डालने का काम शुरू कर दिया है।