इन्वेस्टर मीट के नाम पर बीजेपी ने की मौज मस्ती, अपना पक्ष रखने में नाकाम: अग्निहोत्री

  • 12 Nov 2019
  • Reporter: कमल कृष्ण

केन्द्र और प्रदेश सरकार के खिलाफ कांग्रेस ने मंगलवार को हमीरपुर के गांधी चौक में प्रदर्शन किया। जिसमें नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्निहोत्री, कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष कुलदीप राठौर , प्रदेश प्रवक्ता प्रेम कौशल, दीपक शर्मा, जिला कांग्रेस अध्यक्ष नरेश ठाकुर, पूर्व विधायक अनीता वर्मा, कुलदीप पठानिया सहित काफी संख्या में कार्यकर्ता मौजूद रहे। इस दौरान कार्यकर्ताओं ने गले में प्याज और सब्जी की माला डालकर महंगाई के खिलाफ प्रदर्शन किया।

इस मौके पर नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्निहोत्री ने धर्मशाला में हुई इंवेस्टर मीट पर सवाल उठाते हुए कहा कि इवेंस्टर मीट के नाम पर बीजेपी ने मौज मस्ती की है। अग्निहोत्री ने आरोप लगाया कि बीजेपी अपना पक्ष रखने में पूरी तरह नाकाम हो गई है और इवेंस्टर मीट में केन्द्रीय वित राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर ने कोई मदद नहीं की है। उन्होंने कहा कि धारा-118 को किनारे रखते हुए हिमाचल निर्माता डॉ. वाईएस परमार का नाम तक नहीं लिया है, क्योकि बीजेपी धारा-118 के साथ खिलवाड़ कर रहे हैं, इसलिए डर के मारे परमार के नाम को याद तक नहीं किया गया है।

मुकेश अग्निहोत्री ने कहा की कांग्रेस तीन साल बाद बीजेपी को सता से बाहर करेगी। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर को सता का गरूर हो गया है। और जब किसी में अंदाजे खुदाई पैदा हो जाती है तो हमने देखा है कि वह बुत तोड़ दिए जाते हैं। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी दूसरी बार हिमाचल आए थे और दूसरी बार भी हिमाचल को निराश कर बेरंग चले गए। उन्होंने कहा कि इस समय हिमाचल 60 हजार करोड़ रूपये के कर्जे में डूबा है और इन्वेस्टर मीट के लिए जो टेंट लगा था वह 10 करोड़ में लगा था। साथ ही पीएम मोदी को टोपी पहनाने के लिए महिला को 10 लाख रूपये दिए गए। उन्होंने कहा कि एक तरफ जहां प्रदेश कर्जे में डूब रहा है वहीं सरकार फिजूल खर्ची करने से बाज नहीं आ रही।

मुकेश अग्निहोत्री ने प्रदेश में कानून व्यवस्था पर सवाल खडे करते हुए कहा कि सरकाघाट में बुजुर्ग महिला के साथ हुई घटना शर्मसार करने वाली है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में धर्म के नाम पर ऐसी घटनाएं घट रही है, जिससे कानून का ग्राफ गिर रहा है, जो कि चिंता का विषय बना हुआ है।