हमीरपुर: कंपनी में फंसी लोगों की जमा पूंजी, ज्यादा ब्याज के लालच में मूलधन भी नहीं मिल रहा

  • 06 Nov 2019
  • Reporter: कमल कृष्ण

जमापूंजी पर ज्यादा ब्याज का लालच देकर कम्पनी द्वारा लोगों के किये गए फिक्स्ड डिपॉजिट मैच्योरिटी तिथि बीत जाने के बाद भी नहीं दिए जा रहे। परेशान लोग पुलिस अधीक्षक और सम्बंधित थाने तक में गुहार लगा चुके हैं लेकिन अभी तक उन्हें अपनी राशि नहीं मिल पाई है। मामला उपमण्डल बड़सर के मैहरे में चल रहे एक कम्पनी के कार्यालय का है। जीवन ज्योति डिपॉज़िट एवं एडवांसज लिमिटेड के नाम से चलाई जा रही इस कम्पनी में कई लोगों ने अपनी खून पसीने की कमाई जमा करवा रखी है। बैंक से ज्यादा ब्याज़ मिलने के चक्कर में लोग इस कम्पनी में पैसे जमा करवाते चले गए लेकिन जब मैच्योरिटी का समय आया तो बार बार चक्कर लगाने के वावजूद पैसे नहीं मिल पा रहे हैं।

ऐसे हीं एक पीड़ित रोशन लाल का कहना है कि उनके इस कम्पनी में 5 लाख 40 हज़ार रु फंस चुके हैं। उन्होंन ने जरूरत के मुताबिक अपने पारिवारिक सदस्यों के नाम से अलग अलग एफडी बनवा रखी थीं। अब जब अपनी पोती की शादी के लिए उन्हें रुपये की सख़्त जरूरत है तो कम्पनी के कर्मचारियों द्वारा उन्हें बैरंग लौटाया जा रहा है। उम्र के आठवें दशक में पहुंच चुके पूर्व प्रधान रोशन लाल को चलने फिरने में भी दिक्कत है।

दुखी रोशन लाल का कहना है कि कम्पनी प्रबंधक द्वारा उन्हें झांसे में लेकर 8 में से 6 एफडी के कागज़ात ले लिए गए हैं जबकि 2 एफडी उनके पास ही हैं। रोशन लाल के अनुसार जव भी वे उक्त कम्पनी में अपना पैसा लेने के लिए जाते हैं तो उन्हें हर बार कोई न कोई वहाना करके टाल दिया जाता है। वे पुलिस अधीक्षक हमीरपुर से 3 अगस्त को एक शिकायत पत्र द्वारा सारे मामले की छानवीन करने की गुहार लगा चुके हैं।

बदा दें कि इस कम्पनी में ओर भी लोगों के पैसे फंसने की सूचना है। कम्पनी प्रबंधक द्वारा दिये गए चैक के बाउंस हो जाने पर पीड़ितों द्वारा उसके ख़िलाफ़ एफआईआर दर्ज करवाई जा चुकी है। अक्टूबर के पहले हफ्ते जीवन ज्योति डिपोजिट एंड एडवांसज लिमिटिड के प्रवंधक आनंद भारती से बात की गई थी तो उनका कहना था कि  2019 के अन्तिम सप्ताह तक रोशन लाल और उसके परिवार के सदस्यों को जीवन ज्योति डिपोजिट एंड एडवांसज लिमिटिड द्वारा घरद्वार पर जाकर मैच्चोरिटी कर दी जाएगी ।

उधर, एसएचओ बड़सर कुलदीप  शर्मा ने बताया कि मामले में एफआईआर दर्ज़ हो चुकी है। उन्होंने बताया कि और भी पीड़ित शिकायत लेकर पहुंच रहे हैं। छानबीन करके उचित कार्यवाही की जाएगी।