शिमला: ई-विधान प्रणाली को जानने विधानसभा सचिवालय पहुंचा गोवा विधानसभा के अधिकारियों का दल

  • 02 Dec 2019
  • Reporter: पी. चंद, शिमला

हिमाचल विधानसभा देश की ऐसी पहली विधानसभा है जहां सबसे पहले ई-विधान प्रणाली को लागू किया है। यह ई-विधान प्रणाली देश-विदेश में काफी प्रसिद्ध हो चुकी है। देश के अन्य राज्यों के साथ-साथ बाहरी देश भी हिमाचल विधानसभा की ई-विधान प्रणाली को जानने यहां पहुंच रहे हैं। इसी कड़ी में सोमवार को गोवा विधानसभा के वरिष्ठ अधिकारियों का एक दल ई-विधान प्रणाली को जानने विधान सभा सचिवालय पहुंचा। गोवा विधानसभा के इन अधिकारियों को हिमाचल प्रदेश विधानसभा के निदेशक सूचना प्रोद्योगिकी धर्मेश शर्मा ने ई-विधान प्रणाली की जानकारी दी।

ई-विधान प्रणाली की जानकारी देते हुए धर्मेश शर्मा ने कहा कि यह एक पार्यावरण मित्र प्रणाली है जिससे जहां कार्यों में तीव्रता आई है वहीं, पार्दशिता भी बढ़ी है। उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश विधान सभा देश की सर्वप्रथम उच्च तकनीक युक्त ऑनलाइन विधान सभा है। विधायकों को सत्र और बैठकों संबंधित जानकारी मोबाइल ऐप के जरिए दी जाती है और विधायक भी अधिकतर प्रश्न ऑनलाइन तरीके से ही भेजा करते हैं।

गोवा से आए इस दल ने हिमाचल प्रदेश विधानसभा में का भी अवलोकन किया। इस दल ने हिमाचल विधानसभा के अध्यक्ष राजीव बिंदल को ई-विधान प्रणाली की बधाई दी और सदन के रख रखाव की भी भरपूर प्रशंसा की । उन्होंने कहा कि गोवा विधान सभा भी ई-विधान प्रणाली को स्थापित करने में प्रयासरत है।