शिमला: पुलिस विभाग में होगी एक हजार कांस्टेबल की भर्ती, पुलिस दिवस पर CM ने किया ऐलान

  • 02 Dec 2019
  • Reporter: पी. चंद, शिमला

हिमाचल प्रदेश पुलिस में रिक्त पड़े पदों को भरने के लिए एक हज़ार आरक्षियों की भर्ती की जाएगी। यह बात मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने सोमवार को हि. प्र .पुलिस के स्थापना दिवस पर आयोजित कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए कही । उन्होंने कहा कि रिक्त पड़े पदों को भरने की प्रक्रिया जल्द शुरू हो जाएगी। प्रदेश में जनसंख्या बढ़ने के साथ ही पुलिस महकमे को मजबूत करने के लिए उसे समय समय पर बढाने की आवश्यकता रहती है। साथ ही पुलिस कर्मियों को सेवानिवृति से तीन माह पूर्व एक पदौन्नति दी जाएगी।

इस मौके पर उन्होंने पुलिस कर्मियों को बधाई देते हुए कहा कि आज का दिवस पुलिस का मनोबल बढ़ाने का है। पुलिस ने विपरीत परिस्थितियों में कार्य किये हैं जिसके लिए वह बधाई के पात्र है। उन्होंने कहा कि हिमाचल जैसे शांत प्रदेश में जहां लोगों की भूमिका शांति बनाए रखने में रहती है वहीं पुलिस भी कठिन परिस्थितियों में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रही है ,जिसके लिए वह साधुवाद के पात्र है। उन्होंने कहा कि इस आईटी युग मे हिमाचल पुलिस आधुनिक उपकरणों से लैस है। पुलिस को समाज मे केवल डर से न जाना जाए इसके विपरीत पुलिस  समाज के एक सहयोगी के रूप में कार्य करे । उन्होंने कहा कि पुलिस समय समय पर लोगों को जागरूक करने के लिए सराहनीय कार्य करती रहती है।

एक सवाल के जवाब में मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कहा कि नशे के कारोबार में संलिप्त एक पुलिस कर्मी का मामला सामने आया था , इस मामले में पुलिस को और सजग रहकर कार्य करने की आवश्यकता है कि कहां कमी रह गयी और क्या किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि 25 जनवरी 2020 को 50वीं वर्षगांठ के अवसर पर पुलिस कर्मियों को पुलिस विशेष सेवा मेडल प्रदान किये जायेंगे।

वहीं, आज पुलिस स्थापना दिवस के अवसर डीजीपी एसआर मरडी ने मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर का स्वागत किया। स्वागत भाषण के उपरांत मुख्यमंत्री ने परेड का निरीक्षण कर सलामी ली तदोपरान्त महिला पुलिस कर्मियों द्वारा रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम तथा साइबर क्राइम पर नुक्कड़ नाटक के साथ आत्म रक्षा के गुरों का भी प्रदर्शन किया गया । इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने पुलिस कर्मियों को सम्मानित भी किया । वहीं इस अवसर पर शिक्षा मंत्री सुरेश भारद्वाज सहित उद्योग मंत्री बिक्रम सिंह भी मौजूद रहे ।