नए साल के उपलक्ष्य पर 24 घंटे खुला रहेगा बाबा बालक नाथ का मंदिर

  • 20 Dec 2019
  • Reporter: रमित शर्मा

उत्तरी भारत के जिला हमीरपुर का प्रसिद्ध सिद्धपीठ बाबा बालक नाथ मंदिर दियोटसिद्ध को नए साल के उपलक्ष पर बाबाजी के दरबार को 24 घंटे खुला रखा जाएगा, ताकि श्रद्धालुओं को बाबाजी की गुफा के दर्शन आसानी से प्राप्त हो सकें। मंदिर न्यास प्रशासन द्वारा नए साल के आगमन पर इस बार पहले से बेहतर सुविधाएं देने के प्रयास किए जा रहे हैं। बाबा बालक नाथ मंदिर दियोटसिद्ध को दुल्हन की तरह सजाने की तैयारियां भी शुरू हो चुकी हैं।

बताते चलें कि बाबा बालक नाथ मंदिर दियेाटसिद्ध में नए वर्ष के आगमन पर बाबाजी की गुफा के दर्शनों के लिए हजारों की तादात में श्रद्धालु देश-विदेश से यहां पहुंचते हैं, जिसके लिए मंदिर न्यास प्रशासन द्वारा श्रद्धालुओं के ठहरने, खाने पीने की व्यवस्था व सुरक्षा को देखते हुए बेहतर प्रबंध किए जा रहे हैं। दियोटसिद्ध मंदिर में पहली बार 31 दिसंबर की रात श्रद्धालुओं को बाबा बालक नाथजी की लाइव आरती का प्रसारण भी देखने को मिल सकता है

मंदिर न्यास प्रशासन द्वारा लाइनों में खड़े बाबा बालक नाथ के भक्तों के लिए इस बार स्पेशल मैट का प्रबंध किया गया है, ताकि ठंड के कारण उन्हें किसी तरह की कोई समस्या न हो। सुरक्षा के लिहाज से चप्पे-चप्पे पर पुलिस के जवान और होमगार्ड तैनात रहेंगे। मंदिर के चारों ओर सीसीटीवी कैमरे भी लगाए गए है। इस बार नए वर्ष के आगमन पर भक्तों को बेहतर सुविधा देने के लिए कुछ फेरबदल भी किए गए हैं। मंदिर में साफ सफाई व्यवस्था का भी पूरा ध्यान रखा जा रहा है। पिछले साल की भांति इस साल भी 31 दिसंबर की रात 10 बजे के बाद लाउडस्पीकर पर पूर्ण प्रतिबंध लगाया गया है।

बाबाजी के भगत भजन-कीर्तन करने के लिए किसी भी प्रकार के लाउडस्पीकर का या ढोल नगाड़े का इस्तेमाल नहीं कर सकेंगे। बाबाजी के रात भर चलने वाले जगराते और बाहरी लोगों द्वारा लगाए गए लंगर के लिए विशेष स्थान चिन्हित किए गए हैं, ताकि भक्तों को बाबा जी की गुफा के दर्शन करने के लिए किसी तरह की परेशानी न हो। पार्किंग की व्यवस्था के लिए भी विशेष प्रबंध किए गए हैं। उधर, मंदिर न्यास अध्यक्ष एवं एसडीएम बड़सर प्रदीप कुमार ने बताया कि नए साल के आगमन पर भक्तों को बेहतर सुविधाएं देने के लिए प्रयासरत है। सुरक्षा के लिहाज से चप्पे-चप्पे पर पुलिस जवान और होमगार्ड तैनात रहेंगे। इस बार नए साल से पहले भक्तों के लिए बाबा बालक नाथ की लाइव आरती का प्रसारण भी शुरू कर दिया जाएगा। उन्होंने बताया कि एंबुलेंस और फायर ब्रिगेड की गाड़िय़ां भी तैनात रहेंगी।