धर्मशालाः नगर निगम की डंपिंग साइट के विरोध में सुधेड़ की महिलाएं हुई लामबंद

  • 02 Dec 2019
  • Reporter: मनोज धीमान

नगर निगम धर्मशाला की डंपिंग साइट के विरोध में सुधेड़ की महिलाएं लामबंद हो गई हैं। आए दिन बीमारियों की चपेट में आ रहे सुधेड़ के लोगों की बढ़ती परेशानी देख महिलाओं ने सुधेड़ स्थित बागेश्वरी महिला मंडल की प्रधान सुनीता ठाकुर के नेतृत्व में डीसी कांगड़ा को ज्ञापन सौंपा। महिलाओं ने प्रशासन को चेताया है कि एक माह के भीतर समस्या का समाधान नहीं किया गया तो 6 जनवरी को चक्का जाम किया जाएगा। महिलाओं का कहना था कि डंपिंग साइट के विरोध में वे पिछले लंबे समय से आवाज उठा रही हैं। लेकिन अभी तक जिला और नगर निगम प्रशासन ने इस ओर कोई ध्यान नहीं दिया है। डंपिंग साइट पर जमा गंदगी की वजह से सुधेड़ के लोग बीमार हो रहे हैं। कई लोगों को चर्म रोग ने अपनी चपेट में ले लिया है। आए दिन लोग गंदगी की वजह से बीमार हो रहे हैं।

बागेश्वरी महिला मंडल की प्रधान सुनीता ठाकुर ने कहा कि नगर निगम की डंपिंग साइट है। वहां मरे हुए मवेशियों और कुत्तों को भी फेंका जा रहा है। लोगों को चर्म रोग हो रहे हैं। वहीं, सुधेड़ गांव की जमीनें भी खराब हो रही हैं। डंपिंग साइट की गंदगी  की वजह से प्रदूषण फैल रहा है, जहां हवा जाती हैं। वहां बीमारी के कीटाणु फैल रहे हैं। आज जिला प्रशासन को ज्ञापन सौंपा है, जिस पर एक माह में कार्रवाई न होने पर 6 जनवरी को क्षेत्र की महिलाओं के साथ चक्का जाम किया जाएगा।

डीसी कांगड़ा राकेश प्रजापति ने बताया कि बागेश्वरी महिला मंडल की महिलाओं ने नगर निगम की डंपिंग साइट की वजह से हो रही परेशानी बारे बताया है। इस बारे में नगर निगम को भी लोगों को हो रही असुविधा बारे बताया जाएगा, जिससे कि डंपिंग साइट के लिए जगह चयन के प्रयास तेज किए जाएं। जिला प्रशासन डंपिंग साइट चिन्हित करने के लिए प्रयासरत है।