रोजगार चाहिए तो 7 फरवरी को ITI शाहपुर आएं, म‍िलेगी नियमित नौकरी

  • 04 Feb 2019
  • Reporter: मृत्युंजय पूरी, धर्मशाला

आईटीआई शाहपुर में 7 फरवरी को वर्धमान नसीबो गारमेंट्स लिमिटेड कैंपस साक्षात्कार के माध्यम से युवतियों को नियमित रूप से नौकरी देगी। 7 फरवरी को लिखित परीक्षा होगी और चयनित युवतियों का उसी दिन इंटरव्यू होगा। इस कैंपस साक्षात्कार में वे युवा भाग ले सकते हैं जिनकी उम्र 18 से 30 वर्ष के बीच हो और कटिंग और स्विंग टेक्नोलॉजी व्यावसायों में आईटीआई से पास आउट कोर्स पास कर रखा हो।

यह जानकारी देते हुए औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान शाहपुर के प्रधानाचार्य ई. एसके लखनपाल ने बताया कि चयनित आईटीआई युवाओं को कंपनी प्रशिक्षुओं को 7222 रुपए  महीना ट्रेनिंग का मिलेगा और सीनियर ट्रेनी के लिए कंपनी 7742 रुपए महीना देगी।  कंपनी के हिमाचल प्रदेश, पंजाब, मध्य प्रदेश और कई जिलों में भी प्लांट हैं।                                                                                       

उधर, औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान शाहपुर के ट्रेनिंग एंड प्लेसमेंट संतोष नारायण ने बताया की कंपनी युवतियों को खाना, रहना तथा सुरक्षा का पूरा प्रबंध होगा। कंपनी ब्रांडेड शर्ट बनाती है। उन्होंने बताया कि इस दिन युवा अपना रिज्यूम ,आधार कार्ड , रोजगार कार्यालय का पंजीकरण पत्र, बोनोफाइड हिमाचली प्रमाण पत्र , शिक्षा और तकनीकी शिक्षा से सम्बंधित समस्त प्रमाण पत्र और दो पासपोर्ट साइज फोटोग्राफस अपने साथ लांए ।

आंगनबाड़ी सहायिका के पद के लिए 21 फरवरी तक करें आवेदन

धर्मशाला बाल विकास परियोजना अधिकारी, नगरोटा सूरियां ने जानकारी देते हुए बताया कि नगरोटा सूरियां के अंतर्गत विभिन्न आंगनबाड़ी केन्द्रों में आंगनबाड़ी सहायिका के पद भरे जाने हैं। इच्छुक उम्मीदवार 21 फरवरी, 2019 तक उनके कार्यालय में आवेदन जमा करवा सकती हैं। भर्ती के लिए 22 फरवरी को उपमंडलाधिकारी नागरिक देहरा के कार्यालय में प्रातः 11 बजे साक्षात्कार लिए जाएंगे।     

इन स्थानों में भरे जाने हैं आंगनबाड़ी सहायिका के 3 पद

उन्होंने बताया कि ग्राम पंचायत सकरी के आंगनबाड़ी केन्द्र दरगिया, पंचायत लुदरेट के आंगनबाड़ी केन्द्र लुदरेट तथा ग्राम पंचायत भटेड़ के आंगनबाड़ी केन्द्र भटेड में आंगनबाड़ी सहायिका का एक-एक पद साक्षात्कार के माध्यम से भरा जाना है।

आंगनबाड़ी सहायिका के पद के लिए पात्रता

उन्होंने बताया कि आंगनबाड़ी सहायिका के पद के लिए उम्मीदवार की न्यूनतम शैक्षणिक योग्यता आठवीं या इसके समकक्ष है। प्रार्थी की आयु 21 से 45 वर्ष के बीच होनी चाहिए। उम्मीदवार के परिवार की वार्षिक आमदन 35 हजार रूपये से अधिक नहीं होनी चाहिए और उक्त प्रमाण पत्र तहसीलदार द्वारा जारी होना चाहिए।  
 
उन्होंने बताया कि 1 जनवरी, 2019 से पूर्व अपने परिवार से कानूनी तौर पर अलग हुये प्रार्थी ही मान्य होंगे जबकि 1 जनवरी, 2019 के बाद परिवार से अलग हुये प्रार्थी मान्य नहीं होंगे, जिसका प्रमाण पत्र पंचायत सचिव द्वारा जारी किया होना चाहिए इसके अतिरिक्त परिवार रजिस्टर की नकल संलग्न करें। उन्होंने बताया कि प्रार्थी उसी क्षेत्र का स्थाई निवासी होना चाहिए जिस क्षेत्र में आंगनबाड़ी केन्द्र संचालित है। जाति संबंधी प्रमाणपत्र यदि कोई हो, (अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति तथा अन्य पिछड़ा वर्ग) प्रार्थी आंगनबाड़ी केन्द्र के सर्वे रजिस्टर में दर्ज होना चाहिए। इसके अलावा प्रार्थी अपंग हो तो अपंगता का प्रमाण पत्र संलग्न करें।  
   
उन्होंने बताया कि प्रार्थी को किसी प्रकार का अनुभव हों तो उसका प्रमाण पत्र संलग्न करें। आंगनबाड़ी सहायिका को 2 हजार 400 रुपये प्रतिमाह मानदेय दिया जाएगा। साक्षात्कार के दौरान आवश्यक प्रमाण पत्रों की मूल और सत्यापित फोटोस्टेट प्रतियां लाना अनिवार्य है। उन्होंने बताया कि इच्छुक प्रार्थी अपने आवेदन पत्र सादे कागज पर पूर्ण दस्तावेजों सहित 21 फरवरी तक बाल विकास परियोजना अधिकारी, नगरोटा सूरियां के कार्यालय में और 22 फरवरी को उपमंडलाधिकारी देहरा के कार्यालय में जमा करवा सकते हैं।