इसे कहते हैं सेलिब्रेशन! जन्मदिन पर पति-पत्नी ने लिया नेत्रदान का फैसला

  • 14 Mar 2019
  • Reporter: डेस्क

आज की एडवांस दुनिया में आपने लोगों को अपने-अपने ढंग से जश्न मनाते देखा होगा। चाहे कोई बर्थडे पार्टी हो, शादी हो या फिर कोई अन्य ओकेश़न... लोग अपने-अपने ढंग और सिच्वेशन के हिसाब से सेलिब्रेट करते हैं। इसी बीच कई लोग जश्न के इस मौके पर समाज के प्रति अपनी जिम्मेदारी या फिर कहें कर्तव्य नहीं भूलते और हमारे एडवांस होते समाज के लिए एक मैसेज़ छोड़ते हैं।

जी हां, हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा जिला के रहने वाले सन्नी कौल। अपने जन्मदिन के मौके पर इस युवक ने पत्नी मोनिका शर्मा के साथ नेत्रदान करने का फैसला लिया। यानी की मरणोपरांत इन दोनों की आंखें दान कर दी जाएंगी। हालांकि, कई लोग ऐसे होंगे जो अपनी नेत्रदान का फैसला ले चुके हैं... लेकिन इस युवक का ख़ासतौर पर अपने जन्मदिन पर ये ऐलान करना हमारे एडवांस समाज के लिए एक ख़ास मैसेज है।

युवक और उनकी पत्नी का कहना है कि उन्होंने काफ़ी टाइम से सोच रख़ा था कि वे नेत्रदान करेंगे। लेकिन कभी मौका नहीं मिला। आज जब उनका जन्मदिन था तो उन्होंने इस बात की औपचारिकता पूरी करने की ठान ली। उनका कहना है कि हम एक संस्था(हिमालयन सेवियर्स) के लिए काम करते हैं जो मुख्य रूप से ब्लड डोनेट के लिए श़हर या टांडा अस्पताल में काम करती है। इसलिए वे कई दफ़ा ब्लड डोनेट तो कर ही चुके हैं, लेकिन अब नेत्रदान का फैसला लिया। आज नेत्रदान का फैसला लेने से लोगों में जहां सेलिब्रेशन करने का एक शानदार मैसेज छूटेगा, वहीं लोग समाज के प्रति लोग अपनी जिम्मेदारियां भी समझेंगे।

वैसे तो गुरबत के दौर में कई लोगों समाज के लिए अपना योगदान दिया है। लेकिन वे दौर... लोगों के रहन-सहन औऱ सोच-समझ पर एक दम फ़िट बैठता था। यही कारण रहा है कि उस समय लोग समाज के प्रति अपनी जिम्मेदारियां समझते थे और अपनी मानसिकता का परिचय देते थे। आज की एडवांस दुनिया में इस युवक का ये मैसेज़ भी उनकी मानसिकता का परिचय देता है। साथ ही साथ ही लोगों को भी अपने जिम्मेदारी समझनी चाहिए और कम से कम रक्तदान, नेत्रदान जैसे फैसले तो लेने ही चाहिए। यहां तक कि लोग भी जन्मदिन पर उनके इस सेलिब्रेशन की तारीफ़ कर रहे हैं।