'मौसम बदलते हैं मगर धीरे-धीरे, तेरे बदलने की रफ़्तार से तो हवाएं भी हैरान हैं'

  • 02 Apr 2019
  • Reporter: मनीष कौल

'माना मौसम बदलते हैं मगर धीरे-धीरे,
तेरे बदलने की रफ़्तार से तो हवाएं भी हैरान हैं'

ये श़ायरी की दो लाइनें आश्रेय शर्मा को हम नहीं फ़रमा रहे, बल्कि हिमाचल के वे लोग कह रहे हैं जो उनके साथ फेसबुक से जुड़े हैं। उनके कांग्रेस में जाने के बाद सोशल मीडिया पर उनके मुबारक बाद तो मिल रही है, लेकिन साथ ही साथ लोग उनके अचानक फ़ेरबदल को लोग ट्रॉल भी कर रहे हैं। देखें पोस्ट...

 

ताजा वाक्या में 30 मार्च को आश्रेय शर्मा को लोगों ने ट्रॉल कर दिया। दरअसल, उन्होंने अपने फेसबुक वॉल पर एक फोटो पोस्ट किया। इस पर उन्होंने कुछ लिखा भी जिसमें ख़ासतौर पर सुखराम और वीरभद्र के एक होने का संदेश दिया गया था। लेकिन लोगों ने उनके फ़िर एक साथ होने की बात पर आश्रेय शर्मा को ही ट्रॉल कर दिया और मुबारकबाद देने के साथ-साथ ही उन्हें कई ट्रॉल भरे कमेंट्स भी दे डाले। ये देखें कमेंट्स...

लोगों ने एक के बाद उन्हें ट्रॉल कर दिया। हालांकि कई लोग उनके कांग्रेस में जाने से खुश भी है और उन्हें मुबारकबाद भी दे रहे हैं। साथ ही कई लोग उनके पिता के बीजेपी में होने की बात पर सवाल उठा रहे हैं। लेकिन आख़िर में सवाल केवल एक ही है कि इस बार मंडी संसदीय सीट से मुकाबला कौन जीतेगा...??