अपने हलकों में कांग्रेसियों को नहीं मिले वोट, देना चाहिए त्यागपत्र: BJP

  • 25 May 2019
  • Reporter: सुनील ठाकुर

इस लोकसभा चुनाव में हिमाचल में बीजेपी ने अबकी बार चार की चार सीटों के लक्ष्य पूरा किया है। सभी चारों सीटों पर एक बड़े मार्जन से ऐतिहासिक जीत दर्ज हुई है जिसका श्रेय मोदी सरकार की पांच साल की उपलब्धियों और सकारात्मक व्यक्तित्व के साथ-साथ राज्य की जयराम सरकार की सवा साल के कार्यकाल की उपलब्धियों का जाता है। चुनाव में इस बार प्रदेश की 69.5 मत प्रतिशतता पूरे देश भर में सर्वाधिक आंकी गई है, जबकि हमीरपुर संसदीय क्षेत्र में 68 परसेंट वोटिंग ने एक बड़ी जीत का रिकार्ड कायम कर दिया है।

यह बात शनिवार को बीजेपी के मुख्य प्रवक्ता एवं हमीरपुर संसदीय क्षेत्र के प्रभारी रणधीर शर्मा ने कही। उन्होंने कहा कि विडंबना यह है कि कांग्रेस प्रत्याशी न अपने गृहजिला जिला और न ही अपने हलके से लीड ले पाए। बिलासपुर जिला से बीजेपी प्रत्याशी अनुराग ठाकुर को 67154, जबकि नयनादेवी हलके से 10833 मतों की लीड मिली है, जिससे साबित होता है कि विधायक जनता के बीच अपना विश्वास खो चुके हैं।

इस लिहाज से उन्हें नैतिकता के आधार पर अपने विधायक पद से त्यागपत्र दे देना चाहिए। रणधीर शर्मा ने कहा कि इस बार के चुनाव में सभी 68 विधानसभा क्षेत्रों से बीजेपी के पक्ष में जोरदार वोटिंग हुई है। चाहे वह पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह का विधानसभा क्षेत्र हो या फिर कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष और नेता प्रतिपक्ष का। हर हलके में बीजेपी को जबरदस्त बढ़त मिली है।