चंबा: समय पर एंबुलेंस न मिलने से नवजात बच्चे ने बीच राह तोड़ा दम

  • 26 May 2019
  • Reporter: नीतिश शर्मा चंबा

जिला चंबा में समय पर एंबुलेंस न मिल पाने पर एक नवजात बच्ची की मौत हो गई। यह मामला शुक्रवार को देर रात पेश आया। मनीरा बेगम पत्नी मुहम्मद रफ गांव कलीली डाकघर जडेरा जिला चंबा ने पांच दिन पहले एक बच्चे को जन्म दिया था। जन्म के बाद से ही बच्चे की तबीयत खराब हो गई। नवजात को अस्पताल में स्थापित मशीन में रखा गया। लेकिन शुक्रवार देर रात बच्चे की देर रात तबीयत खराब हो गई। डॉक्टरों ने बच्ची को टांडा मेडिकल कॉलेज के लिए रैफर कर दिया। लेकिन अभिभावक एंबुलेंस के लिए भटकते रहे।  लेकिन कहीं से भी कोई समय रहते पहल नहीं हुई।

इसके बाद एसडीएम चंबा दीप्ती मंढ़ोत्रा को सूचित किया गया। एसडीएम ने एंबुलेंस उपलब्ध करवाई। लेकिन चुवाड़ी में पहुंचते ही नवजात की तबीयत ज्यादा बिगड़ गई। जिसे चेकअप के लिए चुवाड़ी सिविल अस्पताल ले जाया गया। जहां उसे डॉक्टरों ने मृत घोषित किया। कहनें को तो सरकार बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं मुहैया करवाने के दावें करती है। लेकिन समय पर एंबुलेंस नहीं मिल पाने की वजह से चंबा में एक नवजात की मौत हो गई।

एसडीएम चंबा दीप्ती मंढ़ोत्रा का कहना है कि इस मामले की जांच की जा रही है। दोषियों के खिलाफ नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी। नवजात के पिता मुहम्मद रफी ने इस घटना के बाद एसएचओ चंबा प्रशांत ठाकुर को शिकायत पत्र सौंपा और साथ ही गुहार लगाई है कि इस मामले की जांच की जाए और नियमानुसार कार्रवाई की जाए।