एक बार फिर विवादों में आया मेडीकल कॉलेज नाहन, नवजात शिशुओं की अदला-बदली का लगा आरोप

  • 09 Jun 2019
  • Reporter: समाचार फर्स्ट डेस्क

 मेडिकल कॉलेज नाहन एक बार फिर विवादों में आ गया है। इस बार मेडिकल कॉलेज में बड़ी लापरवाही सामने आई है। यहां तक की नवजात शिशु की अदला-बदली के आरोप भी लगे हैं।  हालांकि मामला शनिवार का है, लिहाजा मामले को दबाने की भी भरसक कोशिश की गई, लेकिन रविवार को मामले का खुलासा हो ही गया। कहीं न कहीं इस तरह की बड़ी लापरवाही के बाद मेडिकल कॉलेज की कार्यप्रणाली संदेह के घेरे में खड़ी हो गई है।

बता दें कि शनिवार रात कॉलेज में तीन नवजात शिशुओं ने जन्म लिया। ददाहू के चुली गांव के परिवार का आरोप है कि जन्म के तुरंत बाद ही बताया गया कि उनकी बहू संगीता को बेटा  हुआ है। दिखाने के बाद शिशु को वापस ले जाया गया, फिर उन्हें बेटी थमा दी गई। रात करीब साढ़े 10 बजे के आसपास परिवार ने गुन्नुघाट पुलिस को लिखित तौर पर इसकी शिकायत दर्ज करवाई।

पुलिस इस मामले की तफ्तीश कर रही है। प्रारंभिक जांच के आधार पर ही अगली कार्रवाई अमल में लाई जाएगी। शुरुआती जांच में ऐसा भी प्रतीत हो रहा है कि बेटे के जन्म को लेकर गलत-फहमी हुई है या फिर ड्यूटी  पर तैनात स्टाफ ने परिवार को बेटे के जन्म की गलत सूचना दे दी। ददाहू के चुली गांव से ताल्लुक रखने वाली 23 वर्षीय संगीता की सास का आरोप है कि बहू की डिलीवरी के बाद उन्हें यह कहा गया कि बेटा हुआ है और उनकी गोद में नवजात को थमा दिया।

इसके कुछ ही देर बाद उनसे नवजात बेटे को ले लिया गया और थोड़ी देर बाद बताया गया कि उनकी बहू ने बेटी को जन्म दिया है। इसमें कहीं न कहीं सीधे-सीधे लापरवाही हुई है। उन्होंने इस पूरे मामले की जांच की मांग की है। संगीता के पति कुशल का भी कहना था कि डिलीवरी के बाद उन्हें बेटा होने की सूचना दी गई थी।

बेटे की खुशी को लेकर उन्होंने परिवार के कई लोगों को फोन तक कर दिए, लेकिन थोड़ी देर पर उन्हें बताया गया कि बेटा नहीं बेटी हुई है। ऐसे में मामले की जांच की जानी चाहिए। एएसपी सिरमौर वीरेंद्र ठाकुर ने मामले की पुष्टि की है। उन्होंने बताया कि उन्हें इस बारे में गुन्नुघाट पुलिस चौकी में शिकायत मिली है। मामले की जांच की जा रही है। वैज्ञानिक परीक्षण के आधार पर ही जांच को आगे बढ़ाया जाएगा।