'कांग्रेस के EVM पर सवाल निराधार, लोकतंत्र को बदनाम की रच रही साजिश'

  • 11 Jun 2019
  • Reporter: पी. चंद

जयराम सरकार में शिक्षा मंत्री सुरेश भारद्वाज ने कांग्रेस नेताओं के EVM पर उठाए सवालों का जवाब दिया है। सुरेश भारद्वाज ने कहा कि कांग्रेस पार्टी अपनी शर्मनाक हार को छिपाने के लिए ईवीएम को लेकर निराधार बयान बाजी कर रही है। कांग्रेस पार्टी ने चुनाव आयोग को ईवीएम हैक होने कि कई शिकायतें की लेकिन चुनाव आयोग ने उनकी सभी शिकायतों को खारिज कर दिया था।

उन्होंने कहा कि चुनाव आयोग ने ईवीएम मशीनों को हैक करने की खुली चुनौती दी जिस कार्यक्रम का नाम उन्होंने हैकाथ्रोन दिया। तब कांग्रेस, आम आदमी पार्टी और बीएसपी ने तो उस कार्यक्रम में भाग तक नहीं लिया और सीपीएम वह एनसीपी ने आखिरी क्षणों में कार्यक्रम में ना आने का फैसला लिया। इससे स्पष्ट होता है की महागठबंधन की यह चाल पूरी तरह विफल हो गई।
 
शिक्षा मंत्री ने कहा कि ईवीएम हैकिंग भारतीय लोकतंत्र को बदनाम करने के लिए कांग्रेस द्वारा प्रायोजित साजिश है। कांग्रेसी नेता और कार्यकर्ता बार-बार शोर मचाते हैं कि ईवीएम हैक की गई है और जब समय आता है कि अपने लगाए हुए आरोपों को सिद्ध करें तो वह भाग जाते हैं। जब-जब कांग्रेस पार्टी जीती है तब तब ईवीएम ठीक होती है और जब कांग्रेस पार्टी हारती है तो ईवीएम हैक होती है। यह कांग्रस का कैसा दोहरा चेहरा है।

भारद्वाज ने कहा कि कांग्रेस पार्टी का हिमाचल प्रदेश में दिवालिया निकल गया है। कांग्रेस के चुनाव प्रभारी और वरिष्ठ नेताओं के खिलाफ उनके ही कार्यकर्ता आरोप लगा रहे हैं। चुनाव अभियान के दौरान कांग्रेस के वरिष्ठ नेता औऱ  प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह ने स्वयं ही आनंद शर्मा , सुखविंदर सिंह सुक्खू और पंडित सुखराम के खिलाफ अनेकों टिप्पणियां की है। उन्होंने कहा कांग्रेस का जहाज अपने ही बोझ के तले डूब रहा है।