ये है दुनिया का सबसे खतरनाक पुल, इस पर गुजरते वक्त अटक जाती हैं लोगों की सांसें

  • 06 Jun 2019
  • Reporter: समाचार फर्स्ट डेस्क

दुनिया में कई ऐसे खतरनाक पुल हैं जिनपर आमतौर पर गुजरने में लोगों की सांस अटक जाती है। चीन में एक ऐसा ही है शीशे का पुल जो जमीन से कई फुट उंचाईयों पर बनाया गया है। इस पर जाने से पहले लोग हजार बार सोचते हैं।

हवाओं में उड़ने का अनुभव तो आपने जरूर लिया होगा लेकिन क्या कभी हवाओं के ऊपर चलने का अनुभव प्राप्त किया है। नहीं ना, चीन के जियांशु प्रांत में दुनिया का सबसे खतरनाक पुल बनाया गया है जो शीशे का है। इसे खतरनाक इसलिए कहा जाता है क्योंकि यह जमीन से 300 फीट की उंचाईयों पर बनाया गया है और इसके दोनों छोरों पर उंची पहाड़ें हैं। यह पुल बस इन दोनों छोरों के सहारे हवा में लटकाया हुआ है, ऊपर से पुल का फर्श शीशे का है। इस पुल पर कमजोर दिल वाले जा नहीं सकते हैं क्योंकि इस पर चलते हुए अगर आपने नीचे देखा तो आपकी जान हलक को आ जाएगी। 

 

इस पुल की लंबाई 518 मीटर है जो दुनिया का सबसे लंबी पुल है। इसे इसी साल के शुरुआत में आम पब्लिक के लिए खोल दिया गया था। इसे बनाने के लिए एक खास तरह के शीशे का प्रयोग किया गया है ऐसा शीशा जिसकी मोटाई 3.5 सेंटीमीटर है। इसकी मजबूती का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि प्रत्येक क्यूबिक शीशे का वजन 4.7 टन है। यह ब्रिज एक बार में 2,600 लोगों का वहन कर सकता है।  

यह उस समय और खतरनाक लगने लगता है जब इस पर चलने के दौरान बैकग्राउंड में सेट की हुई ऐसी आवाजें आती है जिससे लगता है कि ब्रिज में लगा हुआ शीशा टूट रहा है। इसे सुनकर लोगों की जान हलक में अटक जाती है। इसी महीने इस ब्रिज की एरियल फुटेज तस्वीरें ली गई थी।

कुछ कमजोर दिल वाले पर्यटक तो यहां आते ही चीखने लगते हैं कुछ तो बेहोश हो जाते हैं। हालांकि ये पुल लोगों की सुविधा के लिए ही बनाए गए हैं लेकिन वे इस पर चलने से काफी घबराते हैं। यह यूं तो चीन के विकास में एक बड़ा कदम है लेकिन इन नई तकनीक के साथ ही ये एक हैरतअंगेज भी है।

इस पुल के आसपास सिर्फ खतरनाक पहाड़ियां ही है। पुल के नीचे 300 मीटर की खतरनाक खाई है। जो कोई भी इस पुल पर आता है उसकी चीखें जरूर से निकल जाती है।

बस तस्वीरों में ही इस पुल और इसके आसपास की खूबसूरती देखने में अच्छी लगती है लेकिन अगर आप वहां जाते हैं तो पुल के उपर जाने की आपकी हिम्मत काम करना बंद कर देगी।