दादा और पिता सेना में थे, तो बेटे ने भी लेफ्टिनेंट बनकर चमकाया नाम

  • 10 Jun 2019
  • Reporter: रविंदर, ऊना

ऊना के कुटलैहड़ में रहने वाले आशीष सिंह ढटवालिया भारतीय सेना में लेफ्टिनेंट बने हैं। आशीष सिंह रिटायर सुबेदार मेजर सुरजीत सिंह के बेटे हैं। यही नहीं, आशीष के दादा ने भी सेना में अपनी सेवाएं दी हैं और उनकी तरह आज आशीष ने भारतीय सेना में शामिल होकर नाम रोशन किया है।

आशीष के पैतृक गांव बडाग्राम, घोडी धबीरी हमीरपुर में है। आशीष की स्कूली पढ़ाई आर्मी स्कूल में हुई। दसवीं कक्षा में आशीष ने सीबीएसई बोर्ड से 10 सीजीपीए और जमा दो में 97 प्रतिशत अंक प्राप्त किए। बाहरवीं कक्षा के बाद आशीष ने दिल्ली विश्वविद्यालय में दाखिला लिया और वहां पढ़ाई के दौरान जून 2015 में सेना में चयन हुआ।

आशीष ने इस सफलता का श्रेय अपनी माता नीलम ढटवालिया को दिया। उन्होंने कहा कि माता ने हमेशा आगे बढऩे के लिए प्रोत्साहित किया। आशीष की उपलब्धि पर क्षेत्र के विधायक और कैबिनेट मंत्री वीरेंद्र कंवर, केंद्र राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर, पंचायत प्रधान जसपाल सिंह ढिल्लो, बीडीसी सदस्य गुरबख्शओं देवी व समस्त ग्रामीण वासियों ने बधाई दी है।