खनन माफियाओं के हौसले बुलंद, पुलिस को धमकाने गंडासे लेकर पहुंचे लोग

  • 10 Jul 2019
  • Reporter: रविंद्र, ऊना

ऊना जिला में खनन माफिया प्रशासन और पुलिस पर हावी होता जा रहा है जिसका उदाहरण मंगलवार देर रात हिमाचल पंजाब सीमा पर स्थित संतोषगढ़ कस्बे में देखने को मिला। ऊना पुलिस को पिछले कई दिनों से संतोषगढ़ में स्वां नदी के भीतर अवैध खनन की शिकायतें मिल रही थी। जिसे लेकर डीएसपी हरोली धनराज सिंह की अगुवाई में पुलिस पार्टी ने स्वां नदी में दबिश दी।

स्वां नदी में छापेमारी के दौरान पुलिस टीम ने पंजाब नंबर एक टिप्पर को मौका से पकड़कर कब्जे में ले लिया। इसके बाद पुलिस टीम हिमाचल पंजाब सीमा पर स्वां नदी में एक पोकलेन मशीन और 5-6 टिप्परों को खनन करते देखा जैसे ही पुलिस टीम मौके पर पहुंची तो चालक पोकलेन और टिप्पर लेकर मौके से भाग गए। ऊना पुलिस की मानें तो इसके कुछ ही समय बाद 20-25 व्यक्ति तलवार, लोहे की राडें, लाठी, गंडासे और अन्य हथियार लेकर वहां आए और पुलिस पार्टी को धमकाने की कोशिश की।

डीएसपी ऊना ने बताया कि इस दौरान पंजाब पुलिस की एक टीम भी मौका पर पहुंच गई लेकिन पंजाब पुलिस भी खनन कर्ताओं का ही समर्थन कर रही थी। इसी दौरान पंजाब पुलिस और अवैध खननकर्ताओं ने कहा कि यह पंजाब का क्षेत्र है, हिमाचल प्रदेश का नहीं। डीएसपी ऊना ने बताया कि इस मामले को पंजाब के उच्चाधिकारियों के समक्ष भी उठाया जायेगा।