UP: लगातार हो रही वारदातों से दहल उठा उत्‍तर प्रदेश, 24 घंटे में 11 लोगों की हत्‍या

  • 18 Jul 2019
  • Reporter: समाचार फर्स्ट डेस्क

उत्‍तर प्रदेश की कानून-व्‍यवस्‍था को चुनौती देती दो दुस्‍साहसिक वारदात से पूरा सूबा दहल गया। सोनभद्र में बेखौफ दबंगों ने जमीन की खातिर दिनदहाड़े धनाधन गोलियां चलाकर नौ लोगों की हत्‍या कर दी। वहीं, संभल में दो पुलिसकर्मियों की गोली मारकर हत्या कर दी गई। इन वारदात के बाद से सरकार और पूरा पुलिस महकमा हरकत में है। मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने दोनों वारदात पर सख्‍त कार्रवाई के आदेश दिये हैं।

पुलिस महानिदेशक ओपी सिंह ने कहा कि सोनभद्र के घोरावल थाना क्षेत्र के उधा गांव में दो साल पहले ग्राम प्रधान यज्ञदत्त ने एक आईएएस अधिकारी से 90 बीघा जमीन खरीदी थी। यज्ञदत्त ने इस जमीन पर कब्जे के लिये बड़ी संख्‍या में अपने साथियों के साथ पहुंचकर ट्रैक्टरों से जमीन जोतने की कोशिश की लेकिन स्थानीय ग्रामीणों ने इसका विरोध किया। इसके बाद ग्राम प्रधान पक्ष के लोगों ने स्‍थानीय ग्रामीणों पर ताबड़तोड़ गोलियां चला दीं। इस बीच संभल जिले में एक दूसरी वारदात में दो पुलिसकर्मियों की गोली मारकर हत्या कर तीन कैदी फरार हो गए।

अप्पर पुलिस महानिदेशक पीवी रामाशास्त्री ने बताया कि मुरादाबाद की जेल से पेशी पर संभल जिले की चंदौसी स्थित अदालत लाये गये कुल 24 मुल्जिमों को वापस मुरादाबाद जेल ले जाया जा रहा था। रास्ते में शाम करीब 5 बजकर 20 मिनट पर बनियाठेर थाना क्षेत्र के धन्नूमल तिराहे के पास ये घटना हुई। इस वारदात में तीन महिलाओं समेत नौ लोगों की मौत हो गयी और 19 अन्य जख्मी हो गये। इस मामले में ग्राम प्रधान के भतीजों गिरिजेश और विमलेश सहित 24 लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है।  बाकी आरोपियों की तलाश की जा रही है।

पुलिस ने जमीन के विवाद में ग्राम प्रधान पक्ष को पूर्व में भी पाबंद किया था और उसकी सम्पत्ति कुर्क करने की कार्रवाई भी मजिस्ट्रेट के यहां चल रही है। इस घटना के बाद मध्य प्रदेश पुलिस को भी सतर्क कर दिया गया है। जरूरत पड़ने पर जमीन बेचने वाले आईएएस अधिकारी के खिलाफ भी कार्रवाई की जाएगी। रोंगटे खड़े कर देने वाली यह वारदात इस साल प्रदेश में हुई सबसे ज्यादा खूनखराबे वाली घटना है।