शिमला में BJP प्रदेश पदाधिकारियों की बैठक, सत्ती ने की संगठनात्मक चुनावों की घोषणा

  • 23 Aug 2019
  • Reporter: पी. चंद. शिमला

शुक्रवार को बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष सतपाल सिंह सत्ती की अध्यक्षता में बीजेपी प्रदेश पदाधिकारियों की बैठक दीपकमल में संपन्न हुई।  बैठक में अनुसूचित जाति मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष, सांसद एवं राष्ट्रीय सह-चुनाव अधिकारी विनोद सोनकर विशेषरूप से उपस्थित रहे। बैठक की शुरूआत में उपस्थित सदस्यों ने पूर्व विदेश मंत्री व भाजपा नेता सुषमा स्वराज जी को श्रद्धांजलि अर्पित की और उनकी आत्मिक शांति के लिए दो मिनट का मौन रखा गया। सत्ती ने कहा कि सुषमा स्वराज केवल भाजपा की नहीं इस देश की महान नेताओं में से एक थी। उनके देहांत से जो क्षति हुई है उसकी भरपाई करना बहुत मुश्किल है। कार्यकर्ताओं को सम्बोधित करते हुए सत्ती ने बीजेपी के संगठनात्मक चुनाव के लिए कार्यक्रम की भी घोषणा की जिसमें 11 सितम्बर 2019 से 30 सितम्बर, 2019 तक बूथ अध्यक्ष तथा बूथ समिति सदस्यों का चुनाव होगा। इसके बाद 11 अक्तूबर से 31 अक्तूबर, 2019 तक मंडल अध्यक्ष का चुनाव मंडल स्तर पर समितियों का गठन, 11 नवम्बर से 30 नवम्बर, 2019 तक जिला अध्यक्ष तथा प्रदेश परिषद सदस्यों का चुनाव तथा 1 दिसम्बर से 15 दिसम्बर, 2019 तक प्रदेश अध्यक्ष तथा राष्ट्रीय परिषद सदस्यों का चुनाव होगा।   

इस अवसर पर मुख्य अतिथि विजय सोनकर शास्त्री ने उपस्थित सदस्यों को सम्बोधित करते हुए कहा कि भाजपा अकेली ऐसी राजनीतिक पार्टी है जो संविधान के अनुसार 3 वर्षों में चुनाव करवाती है और चुनाव का उदेश्य आंतरिक लोकतंत्र को मजबूत करना है। यही कारण है कि आज बूथ स्तर पर काम करने वाला कार्यकर्ता भाजपा का राष्ट्रीय अध्यक्ष और प्रधानमंत्री जैसे पद पर विराजमान है। भाजपा के आंतरिक लोकतंत्र का ही परिणाम है कि भाजपा आज दुनिया का सबसे बड़ा राजनेतिक दल होने का गौरव प्राप्त करता है। भाजपा के आंतरिक लोकतंत्र का ही परिणाम है कि यहां छोटे से छोटे कार्यकर्ता को भी आगे बढ़ने के लिए पर्याप्त अवसर प्राप्त होते हैं। भाजपा में आगे बढ़ने के लिए योग्यता ही एक मात्र पैमाना है।
   

उन्होनें कहा कि भाजपा बिना किसी राजनीतिक विरासत के कार्यकर्ताओं को आगे बढ़ाने का कार्य करती है। भाजपा में चुनाव समय, सहमति और सलाह से हो, यह सब कार्यकर्ताओं की जिम्मेदारी है और केन्द्र द्वारा तय किए गए कार्यक्रमों को समय पर और सबकी सहमति से किए जाएं यह भाजपा की पद्धति है। उन्होनें प्रदेश संगठन की सराहना करते हुए कहा कि सांगठनिक दृष्टि से भाजपा मजबूत राज्यों में से एक है और जब भी संगठित भाजपा की बात की जाती है तो सबसे पहले हिमाचल का नाम आता है। इसके लिए यहां का नेतृत्व और कार्यकर्ता बधाई के पात्र हैं जिन्होनें अपनी मेहनत से भाजपा को इस स्वरूप तक पहुंचाया है। उन्होने आशा व्यक्त करते हुए कहा कि पूर्व की भांति इस बार भी चुनाव बिना किसी अवरोध के सम्पन्न होंगे।

बीजेपी प्रदेश पदाधिकारियों की बैठक के समापन सत्र को सम्बोधित करते हुए प्रदेश मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कहा कि 6 जुलाई से प्रारंभ हुआ सदस्यता अभियान अब समापन की ओर बढ़ रहा है। प्राथमिक सदस्यता 20 अगस्त को सम्पन्न हो चुकी है और अब प्रदेश में सक्रिय सदस्य बनाने का कार्य शुरू हो चुका है जो 31 अगस्त तक चलेगा। इसके उपरांत संगठन के चुनाव आरंभ होंगे। बूथ कमेटी से लेकर प्रदेश स्तर तक के चुनाव पूरी प्रक्रिया के साथ सम्पन्न होंगे। हमारी पार्टी का बूथ स्तर का कार्यकर्ता संगठन का कार्य करते-2 मण्डल से लेकर जिला, प्रदेश व राष्ट्रीय स्तर तक पहुंचता है। उन्होनें कहा कि जो कार्यकर्ता पूरी निष्ठा से पार्टी के लिए काम करता है वो पार्टी के उच्च पदों तक पहुंच जाता है। उन्होनें कहा कि संगठन स्वस्थ बने, मजबूत बने इसलिए दायित्व ऐसे व्यक्ति को दिया जाए जो सबको साथ लेकर चले।