BJP ने अनिल शर्मा को किया पार्टी से बाहर, अब विधानसभा में रहेगी अन अटैच मैंबर की भूमिका

  • 14 Aug 2019
  • Reporter: नवनीत बत्ता

भाजपा ने पूर्व मंत्री और मंडी से बीजेपी के विधायक अनिल शर्मा को पार्टी से बाहर निकाल दिया है। अब वह बीजेपी के सदस्य नहीं रहेंगे। बीजेपी में उनकी सदस्यता रद्द होने के बाद अब अनिल शर्मा विधानसभा में अन अटैच मैंबर की भूमिका में नजर आएंगे। बीजेपी ने स्पष्ट कर दिया है कि ना तो अनिल शर्मा भाजपा के विधायक के तौर पर विधानसभा में उपस्थित रहेंगे और ना ही उनके परिवार का कोई सदस्य भाजपा का सदस्य पार्टी में रहेगा। अनुशासनहीनता किसी भी स्तर पर मान्य नहीं है और इसी कड़ी में अनिल शर्मा पर गाज गिरी है।

गौरतलब है कि लोकसभा चुनावों के दौरान अनिल शर्मा और मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर के बीच में मंडी में खूब वाक युद्ध हुआ था और उसी दौरान ही स्पष्ट हो गई थी कि अनिल शर्मा का ना सिर्फ  मंत्री पद जायेगा बल्कि भाजपा से सदस्यता भी जा सकती हैं । इसको लेकर प्रदेशाध्यक्ष सतपाल सत्ती ने स्पष्ट किया है कि अनिल शर्मा को पार्टी से बाहर का रास्ता दिखा दिया गया है और ना तो पार्टी के सदस्य हैं और ना ही उनके परिवार से कोई व्यक्ति पार्टी का सदस्य रहेगा।

मैने सरकारी पद छोड़ा निष्कासन की नहीं कोई जानकारी: अनिल शर्मा

अनिल शर्मा ने इस विषय पर कहा कि उन्हें इस विषय में अभी तक कोई जानकारी नहीं है। लेकिन मैंने अपना मंत्री पद पहले ही छोड़ दिया है और साथ ही मंत्री का जो घर था वह भी छोड़ दिया है लेकिन अभी तक मुझे विधायक का घर सरकार की तरफ से आवंटित नहीं हुआ है।   

अनिल शर्मा को पार्टी की सदस्यता से निष्कासित किया गया: सत्ती

प्रदेशाध्यक्ष सतपाल सत्ती का कहना है कि इस मामले को लेकर बकायदा बीजेपी के पास ऑडियो और वीडियो क्लिप्स भी प्रूफ के रूप में पड़े हैं। जिनमें वह स्पष्ट तौर पर अपने बेटे आश्रय शर्मा के लिए लोगों को मतदान करने के लिए कह रहे हैं जो कि बीजेपी के उम्मीदवार पंडित रामस्वरूप शर्मा के विरोध की बात है। उन्होंने बताया कि अनिल शर्मा और उनके परिवार कोई भी सदस्य अब बीजेपी का सदस्य नहीं है।