मॉनसून सत्र: उड़ान 2 के तहत प्रदेश में होगा 6 हेलीपोर्ट का निर्माण

  • 21 Aug 2019
  • Reporter: पी. चंद. शिमला

प्रश्नकाल के दौरान कांग्रेस विधायक सुखविंदर सिंह सुक्खू ने सरकार से पूछा कि क्या सरकार सभी जिला मुख्यालयों में हेलीपोर्ट बनाने की मंशा रखता है। तीन जिला मुख्यालयों में सरकार ने हेलीपोर्ट बना लिया है। सुक्खू ने बताया कि शिमला से चंडीगढ़ तक जाने के लिए टैक्सी में 3 हजार के लगभग किराया देना पड़ता है। अगर हेलीपोर्ट की सुविधा सभी जिला मुख्यालयों में मिल जाती है तो प्रदेश में पर्यटकों की संख्या भी बढ़ेगी और लोगों की जेब पर भी बोझ नहीं पड़ेगा।

सुक्खू के सवाल के जवाब में मुख्यमंत्री ने कहा की प्रदेश में वर्तमान में हैलीपैड बनाये जाने की योजना में प्रदेश के सभी जिला मुख्यालयों को जोड़े जाने को लेकर काम कर रही है । हिमाचल प्रदेश के 11 विधानसभा क्षेत्रों में अभी तक हैलीपैड नहीं है। जल्द ही सरकार ज़िला स्तर पर हैलीपैड बनाये जाने पर विचार कर रही है।

इसी प्रश्न के अनुपूरक सवाल में अपनी बात जोडते हुए बिलासपुर के नैनादेवी के विधायक रामलाल ठाकुर और पांवटा साहिब के विधायक सुखराम चौधरी ने भी अपने अपने ज़िलों में हैलीपैड बनाये जाने की मांग की। मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार प्रदेश के सभी विधानसभा क्षेत्रों में हैलीपैड बनाएं जाने की मंशा रखती है। और जहां तक हेलीपोर्ट का सवाल है उसमे उड़ान 2 के तहत 6 जगहों पर हेलीपोर्ट का निर्माण होना है जिसके लिए सरकार काम कर रही है।