मंडी: पत्नी का पता न बताने पर छुट्टी आए फौजी ने 10 साल की भतीजी का गला रेता

  • 12 Sep 2019
  • Reporter: मनोज धीमान

जिला मंड़ी में पत्नी का पता न बताने पर घर छुट्टी आए एक फौजी ने 10 साल की भतीजी का तेजधार हथियार से गला रेत दिया। इसके बाद आरोपित ने मासूम को लहुलूहान हालत में खेत में फेंक दिया। बाद में बच्ची पर सुअर का हमला होने का शोर मचाकर ग्रामीणों को गुमराह करने का प्रयास किया। ग्रामीण बच्ची को नेरचौक मेडिकल कॉलेज ले गए। वहां बच्ची के गले में 20 से अधिक टांके लगे हैं।

फिलहाल बच्ची खतरे से बाहर है। उसके बयान के आधार पर बल्ह पुलिस ने आरोपित के विरुद्ध हत्या की कोशिश का केस दर्ज करके गिरफ्तार कर लिया है। बच्ची की मां ने बताया उसकी 10 वर्षीय बेटी मंगलवार को घर में अकेली थी। उसी दौरान बच्ची का चाचा एवं मौसा ओम प्रकाश उनके घर आया। वह बच्ची से अपनी पत्नी के बारे में पूछने लगा। उसकी पत्नी घरेलू विवाद  के चलते अलग रहती है। ओमप्रकाश कोठी गहरी गांव का रहने वाला है। वह भारतीय सेना में कार्यरत है और मौजूदा समय में जम्मू-कश्मीर के कुपवाड़ा क्षेत्र में तैनात है। इन दिनों घर छुट्टी आया हुआ है।

आरोपी की पत्नी और लड़की की मां सगी बहने हैं और एक ही घर में ब्याही हुई हैं। इस वारदात का एक वीडियो भी सामने आया है। इसमें बच्ची कहते हुए सुनाई दे रही है उसका गला उसके चाचा ने रेता है। ओमप्रकाश शराब के नशे में था। रिवालसर पुलिस चौकी प्रभारी मुंशी राम की अगुआई में पुलिस ने बुधवार को घटनास्थल पर जाकर साक्ष्य जुटाए और लोगों के बयान कलमबद्ध किए।

बच्ची का गला रेतने के आरोपी फौजी ओमप्रकाश को गिरफ्तार कर लिया है। उसका अपनी पत्नी के साथ भी कई साल से विवाद चल रहा है। पत्नी अलग रहती है। बच्ची ने उसकी पत्नी का पता बताने से मना किया तो तैश में आकर उसका गला रेत दिया। आरोपी को वीरवार को कोर्ट में पेश किया जाएगा।