मणिकर्ण सड़क की बदहाली से पड़ रहा पर्यटन कारोबार पर असर: सुंदर सिंह

  • 14 Jan 2020
  • Reporter: मनोज धीमान

जिला कुल्लू की मणिकर्ण घाटी जो धार्मिक रूप से भी काफी विख्यात है। वहीं, यह पर्यटन की दृष्टि से भी पूरे देश दुनिया में प्रसिद्ध है। लेकिन भुंतर से लेकर मणिकर्ण  सड़क की बदहाली के कारण यहां का पर्यटन कारोबार भी काफी प्रभावित हो रहा है। कुल्लू सदर के विधायक सुंदर सिंह ठाकुर ने कहा कि भाजपा सरकार ने पहले यह घोषणा की थी कि भुंतर से लेकर मणिकरण तक के सड़क मार्ग को भारतमाला प्रोजेक्ट में लाया गया है जिसके तहत करोड़ों रुपए की धनराशि खर्च कर इसे डबल लेन बनाया जाएगा।

इस घोषणा के बाद घाटी के लोगों में खुशी थी कि आखिर उनकी यह सड़क हो जाएगी और यहां पर्यटन को चार चांद भी लगेंगे। लेकिन जब उन्होंने इस बारे में केंद्र सरकार के अधिकारियों से पत्राचार किया तो उन्हें मालूम हुआ कि भारत माला प्रोजेक्ट ही खत्म कर दिया गया है और इस सड़क को डबल लेन बनाने की प्रक्रिया भी बंद हो चुकी है। सुंदर सिंह ठाकुर ने कहा कि जब उन्होंने इस सड़क के डबल लेन करने के बारे में अधिकारियों से जवाब मांगा तो उन्होंने जवाब दिया कि इस सड़क को भी प्रदेश में दिए गए 69 नेशनल हाईवे हाईवे से जोड़ा जाएगा। जिसके तहत इसके डबल लेन कार्य किया जाएगा। सुंदर सिंह ठाकुर ने कहा कि केंद्र सरकार द्वारा यह घोषणा पूर्व के कार्यकाल में की गई थी जो अभी तक पूरी नहीं हो पाई है। तो ऐसे में उनके यह घोषणा एक बार फिर से कोरी साबित होगी। जिससे यह साफ पता चलता है कि केंद्र और प्रदेश सरकार मणिकर्ण घाटी में पर्यटन को विकसित करने की दृष्टि से कोई ठोस कदम नहीं उठा रही है।