पूर्व सैनिकों और आश्रितों के लिए फोर्टिस कांगड़ा में उपचार सेवाएं शुरू

  • 03 Jan 2020
  • Reporter: समाचार फर्स्ट डेस्क

नए साल में रिटायर्ड सैनिकों और उनके आश्रितों के लिए अच्छी खबर है । उन्हें अब बेहतर इलाज के लिये प्रदेश से बाहर नहीं जाना पड़ेगा । ऐसे लोगों को अब विशेषज्ञ उपचार की सुविधाएं फिर से फोर्टिस कांगड़ा में उपलब्ध होंगी । चाहे इमरजेंसी ट्रीटमेंट  हो या फिर सामान्य उपचार, फोर्टिस कांगड़ा में  सभी तरह की उपचार सेवाएं ईसीएचएस लाभार्थियों को कैशलेस आधार पर उपलब्ध होंगी ।

पूर्व सैनिक और उनके आश्रितों को फोर्टिस अस्पताल कांगड़ा में ह्रदय रोग, मूत्ररोग, पेट और लीवर रोग, हड्डी और जॉइंट रिप्लेसमेंट, प्लास्टिक और रिकंस्ट्रक्टिव सर्जरी, जनरल और लेप्रोस्कोपिक सर्जरी, कान - नाक और गला रोग, स्त्री रोग, सामान्य रोग, इमरजेंसी औऱ क्रिटिकल केयर, रेडियोलोजी और डायलिसिस जैसी  सेवाएं एडवांस तकनीक के साथ उपलब्ध हो पाएंगी।

आपको बता दें कि फोर्टिस कांगड़ा के खिलाफ एक शिकायत की वजह से पूर्व सैनिकों के लिए यहां उपचार सेवाएं स्थगित की गई थी । कंप्लेंट में लगाए गए आरोपों की सच्चाई जानने के लिए ईसीएचएस औऱ भारतीय सेना के विशेषज्ञ अधिकारियों की टीम बनाई गई थी। इस टीम ने अस्पताल की उपचार सेवाओं की हर पहलु से विस्तृत जांच की। टीम ने सघन जांच के बाद फोर्टिस अस्पताल की कार्यप्रणाली को बेदाग पाया और अस्पताल की स्थगित सेवाओं को दोबारा बहाल करने का फैसला लिया ।

इस सम्बन्ध में फोर्टिस कांगड़ा के डायरेक्टर कर्नल एचएस भगत ने बताया की फोर्टिस कांगड़ा में समर्पित उपचार सेवाओं के साथ कतई समझौता नहीं किया जाता। अस्पताल में मरीजों की जरूरतों को सर्वोपरी रखा जाता है। फोर्टिस कांगड़ा में ईसीएचएस सेवाओं के प्रभारी कर्नल डॉ एसएस परमार ने कहा कि वह पूर्व सैनिकों औऱ उनके आश्रितों के लिए विश्वस्तरीय चिकित्सा सेवाएं प्रदान करने के लिए प्रतिबध्द् हैं। उन्होंने कहा की फोर्टिस अस्पताल कांगड़ा बेहतरीन उपचार और सर्वोतम देखभाल की भावना पर आधारित सेवाएं प्रदान करता है।