सीएम दौरे पर पूर्व मंत्री ने उठाए सवाल, कहा- पुराने कार्यों का दोबारा शिलान्यास करना सही बात नहीं

  • 21 Nov 2020
  • Reporter: मृत्युंजय पुरी

सेंट्रल यूनिवर्सिटी को लेकर अब केंद्रीय मंत्री ही प्रदेश के मुख्यमंत्री की जनसभा में एक भी इंच काम न होने और अधिकारियों द्वारा सरकार की न सुनने की बात कह रहे हैं। केंद्रीय मंत्री ने यह बातें कहकर कांग्रेस द्वारा लगाए जा रहे आरोपों को सही साबित कर दिया है। यह बात पूर्व मंत्री जीएस बाली ने शनिवार को कांगड़ा में प्रेसवार्ता के दौरान कही। बाली ने कहा कि कांग्रेस तो पहले से कहती आ रही है कि कांगड़ा, ऊना और हमीरपुर जिला में भाजपा सरकार में कोई बड़ा प्रोजेक्ट नहीं आया है। रेलवे लाइन, सेंट्रल यूनिवर्सिटी और नेशनल हाईवे के काम बंद पड़े हैं। नेशनल हाईवे को लेकर मंत्री ने आदेश दिए हैं, हो सकता है कि शायद कांगड़ा से ज्वालामुखी तक बन जाए। 

बाली ने आरोप लगाया कि सीएम द्वारा जो काम पूर्व सरकार द्वारा किए गए, जो उनकी प्राथमिकताएं रही हैं, उनके उदघाटन और शिलान्यास कर रहे हैं, जिनके लिए पैसा पहले से पड़ा है, यह अच्छी प्रथा नहीं है। इस बारे में कांग्रेस ने डीसी कांगड़ा और सीएम कार्यालय के अधिकारियों को समय रहते सूचित कर दिया था। बाली ने कहा कि इंजीनियरिंग कॉलेज, आर्किटेक्चर कॉलेज, फार्मेसी कॉलेज और आईटीआई का एक-एक बैच निकल चुका है।

पूर्व मंत्री ने कहा कि जो काम पिछले चाल साल से चल रहे हैं, उनके दोबारा शिलान्यास करना सही बात नहीं है। बाली ने कहा कि लोकल लेवल पर कोई गलती करता है तो सीएम को यह बात देखनी चाहिए, क्योंकि सारा मंत्र उनके पास मौजूद है। बाली ने कहा कि नगरोटा बगवां में जिन योजनाओं के उदघाटन व शिलान्यास किए गए हैं, उनके लिए कितना बजट प्रावधान किया गया है, सीएम को इस बारे में श्वेतपत्र जारी करना चाहिए। बाली ने कहा कि उन्होंने जो सवाल उठाए हैं, उम्मीद है सीएम उन्हें चेक करेंगे और देखेंगे कि स्थानीय विधायक और अधिकारियों ने उनसे क्या गलत करवाया है।