शिमला: पानी के बिलों को किस्तों में अदा कर सकेंगे उपभोक्ता, नगर निगम की बैठक में हुआ फैसला

  • 28 Nov 2020
  • Reporter: पी. चंद शिमला

नगर निगम शिमला की 8वीं साधरण मासिक बैठक का आयोजन किया गया। इस बैठक में शहर के सभी पार्षदों ने वर्चुअली और फिजिकली अपनी उपस्थिति दर्ज की। नगर निगम की महापौर सत्या कौंडल की अध्यक्षता में बैठक की गई इस बैठक में सभी पार्षदों ने अपने इलाके की समस्याओं को लेकर चर्चा की बैठक में मुख्य तौर से 8 महीनों के बाद लोगों को थमाए गए भारी भरकम पानी बिलों को लेकर चर्चा की गई।

पार्षदों का कहना है कि लंबे समय के बाद आए पानी के बिलों को लेकर लोग परेशान हैं और उनकी मांग है कि बिलों की रिचेकिंग की जाए और मासिक तौर पर पानी के बिल लोगों को दिए जाए। साथ ही साथ शहर में जगह-जगह लगे कूड़े के ढेर के निपटारे को लेकर भी जमकर बहस बाजी हुई। 

बैठक के अहम फैसलों की जानकारी देते हुए नगर निगम महापौर सत्या कौंडल ने कहा कि दाड़नी के बगीचे में शिमला की सब्जी मंडी बनने के लिए जगह दे दी गई है। साथियों उन्होंने कहा कि 8 महीनों के बाद आए पानी के बिलों को लोग किस्तों में अदा कर सकेंगे। इसको लेकर जल निगम विभाग से बात की गई है। जल निगम विभाग इनके लिए कोई अतिरिक्त चार्ज नहीं वसूला जाएगा।