कांगड़ा: 16 मई से शुरू होगा जनगणना और घरों के सूचीकरण का काम

  • 27 Feb 2020
  • Reporter: समाचार फर्स्ट डेस्क

जनगणना-2021 के तहत कांगड़ा जिला में घरों की सूचीकरण और जनसंख्या रजिस्टर को अपडेट करने का कार्य 16 मई से लेकर 30 जून तक किया जाएगा। इसके लिए जनगणना अधिकारियों और फील्ड कर्मचारियों को भी आवश्यक प्रशिक्षण दिया जा रहा है। दूसरे चरण में हिमच्छादित क्षेत्रों में 11 सितंबर से लेकर 30 सितंबर तक जनगणना का कार्य संपन्न किया जाएगा जबकि अन्य क्षेत्रों में नौ फरवरी से लेकर 28 फरवरी 2021 तक जनगणना का कार्य पूर्ण किया जाएगा। यह जानकारी उपायुक्त राकेश प्रजापति ने डीआरडीए सभागार में जनगणना अधिकारियों के लिए आयोजित प्रशिक्षण शिविर का समापन अवसर पर बतौर मुख्यातिथि दी।

उपायुक्त ने कहा कि जनगणना देश के विकास का आधार है। राष्ट्रीय एवं राज्य स्तर पर कार्यान्वित किए जाने वाले सभी कार्यक्रमों एवं नीतियों की सफलता के लिए जनगणना के सही आंकड़ों का होना आवश्यक है। यह तभी संभव है, जब जनगणना कार्य के लिए नियुक्त अधिकारी एवं कर्मचारी पूर्ण रूप से प्रशिक्षित हों और अपने कार्य को समर्पण एवं निष्ठा के साथ-साथ समय पर पूरा करें। उपायुक्त ने कहा कि विभिन्न लोकतांत्रिक प्रक्रियाओं तथा स्थानीय निर्वाचन में जनगणना के आंकड़े महत्वपूर्ण है।

(आगे खबर के लिए विज्ञापन के नीचे स्क्रॉल करें)

उन्होंने कहा कि जनगणना के आधार पर ही नीतियों और योजनाओं के निर्माण के लिए मूल्यवान सूचना प्राप्त होती हैं। उपायुक्त ने सभी अधिकारियों से आग्रह किया कि वे जनगणनाा कार्य से सम्बन्धित समस्त पहलुओं को सूक्षमता से समझें, ताकि जनगणना के कार्य को त्रुटिरहित एवं समयबद्ध पूर्ण किया जा सके। प्रशिक्षण के दौरान अधिकारी एवं कर्मचारी शंकाओं का निर्वारण करें।