अपने स्थापना दिवस पर BJP कोरोना पर करेगी प्रहार : राजीव बिंदल

  • 05 Apr 2020
  • Reporter: पी. चंद, शिमला

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष डा. राजीव बिन्दल ने कहा कि आज मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर और भाजपा के प्रदेश पदाधिकारियों के साथ वीडियो कांफ्रेसिंग पर संवाद के दौरान कफर्यू और लॉकडाउन की स्थिति पर विस्तृत चर्चा हुई। उन्होंने कहा कि इस दौरान सरकार और संगठन द्वारा कोरोना महामारी से निपटने के लिए बेहतर तालमेल के साथ प्रयासों को अधिक सघन बनाने पर चर्चा हुई।

बिंदल ने कहा कि सरकार और संगठन के बीच बेहतर तालमेल के साथ काम किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि सरकार और संगठन के बेहतर तालतमेल का परिणाम है आज हिमाचल में कोरोना के कारण चल रहे कफर्यू और लॉकडाउन में आम जन का सकारात्मक सहयोग मिल रहा है और जनता की समस्याएं मुख्यमंत्री तक सीधे पहुंच रही हैं।

 डा. बिन्दल ने कहा कि कफर्यू और लॉक डाउन को देखते हुए जनधन खातों में 500 रुपये प्रति परिवार डाला गया है और देश में कफर्यू और लॉकडाउन के दौरान 20.39 करोड़ जनधन खातों में 4.09 करोड़ रुपये की राशि जमा की गई है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में 1.35 लाख लोगों को गैस सिलेंडर के पैसे उनके खाते में डाले गए हैं जिससे गरीब को भी भारी राहत दी गई है। इसके साथ ही बीपीएल को 5 किलो चावल एक किलो दाल मुफत में इस बार राशन में दिया जा रहा है। उन्होंने कहा कि पूरे प्रदेश में राशन, सब्जियां, दूध, फल और  अन्य आवश्यक वस्तुओं की सप्लाई पूरी तरह विधिवत की जा रही है इसके लिए सरकार बधाई की पात्र है।     
 
6 अप्रैल भाजपा स्थापना दिवस पर भाजपा प्रदेश अध्यक्ष डॉ बिंदल ने कहा कि भाजपा अपने स्थापना दिवस पर एक जुट होकर कोरोना पर प्रहार करेगी। उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी राष्ट्रहित की पार्टी है और आज वैश्विक महामारी करोना वायरस से लड़ना ही राष्ट्रहित है। 6 अप्रैल को भारतीय जनता पार्टी स्थापना दिवस पर महिला मोर्चा की सभी कार्यकर्ता बहनें बूथ स्तर तक संपर्क बनाते हुए यह सुनिश्चित करेंगी कि हर घर में बहनें अपने परिवारजनों के उपयोग के लिए मास्क बनाएं, जिसकी बनाने की विधि बहत साधारण है। उन्होंने कहा कि स्थापना दिवस के अवसर पर युवा मोर्चा एवं पार्टी के सभी कार्यकर्ता प्रधानमंत्री राहत कोष औऱ मुख्यमंत्री राहत कोष में स्वयं भी दान करेंगे और जनता को भी प्रेरित करेंगे। दान की राशि सौ रुपये से लेकर दानदाताओं की क्षमता के अनुसार हो सकती है। यह राशि मुख्यमंत्री हिमाचल और प्रधानमंत्री के कोविड फंड में डाली जाएगी।