मंडी में जुटे सुखराम और वीरभद्र समर्थक, कौल समर्थकों ने किया किनारा

  • 28 Jun 2020
  • Reporter: बीरबल शर्मा

कांग्रेस के लंच डिप्लोमेसी, पत्र बम और अनुशासनहीनता की कार्रवाई करने की चेतावनी के बीच रविवार को मंडी में शहीदों को श्रद्धांजलि देने के नाम पर कौल सिंह के विरोधी कांग्रेसजनों ने एक बैठक की। इसमें जिला कांग्रेस प्रधान एवं पूर्व मंत्री प्रकाश चौधरी भी मौजूद रहे। बैठक में जिला मंडी के अलावा कुल्लू जिले से भी पंडित सुख राम के समर्थकों के साथ-साथ वीरभद्र समर्थक और ब्लाक कांग्रेस के प्रधान शामिल रहे जबकि कौल सिंह समर्थकों जिन्होंने राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी को पत्र भेज कर संगठन पर सवाल उठाए हैं । वो सभी इस बैठक से पूरी तरह से किनारे रहे । बैठक में अधिकांश वक्ताओं ने कौल सिंह को निशाना बनाते हुए उनके साथ बैठकें करने वालों और पत्र लिखने वालों के खिलाफ अनुशासनहीनता की कार्रवाई करने की मांग उठाई।

भाजपा और सरकार को निशाना बनाने की बजाय कौल सिंह उनके समर्थकों को ही निशाना बनाया गया। बैठक के बाद बातचीत में पत्र बम को लेकर पूछे गए सवाल पर जिला प्रधान प्रकाश चौधरी ने माना कि इस बैठक में पत्र भेजने वालों और अलग से बैठक करके प्रदेशाध्यक्ष की खिलाफत करने वालों के खिलाफ अनुशासनहीनता का प्रस्ताव पारित कर दिया है । जिसे प्रदेश कांग्रेस को भेजा जाएगा। जिले के कई वरिष्ठ नेताओं और पिछले चुनाव में उम्मीदवार रहे सोहन लाल, लाल सिंह कौशल, सोहन लाल, पवन ठाकुर, पूर्व मंत्री मनसा राम, जिला उपाध्यक्ष जगदीश रेड्डी आदि जिन्होंने यह पत्र लिखा है के नदारद रहने पर जिला प्रधान ने कहा कि वह क्यों नहीं आए इस बारे में कोई बात नहीं हो पाई है।

उन्होंने कहा कि हर कांग्रेसी को अपनी बात रखने का अधिकार है मगर यह पार्टी के अंदर ही होना चाहिए। उन्होंने कहा कि इस समय सबको साथ मिल कर चलने की जरूरत है क्योंकि मुख्यमंत्री मंडी जिले से हैं, राष्ट्रीय अध्यक्ष भी हिमाचल से हैं तो यह जंग सबकों साथ मिलकर ही लडऩी होगी, साथ चलना होगा ताकि कांग्रेस को और अधिक मजबूत किया जा सके। जिला प्रधान ने कहा कि वह सबको साथ लेकर चलने का प्रयास कर रहे हैं मगर अनुशासन में रह कर ही पार्टी को मजबूत किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि चीन के साथ जंग में कांग्रेस सरकार के साथ है और हर तरह का सहयोग किया जाएगा, मगर दुशमन को मुंह तोड़ जवाब मिलना चाहिए।  

जिला मंडी कांग्रेस नीरज भारती के साथ

जिला कांग्रेस प्रधान प्रकाश चौधरी ने साफ तौर पर कहा कि पूरी जिला कांग्रेस नीरज भारती के साथ है। सरकार ने उसे राजनीतिक द्वेष भावना से जेल में डाला है। लोकतंत्र में सबको अपनी बात रखने का अधिकार है और नीरज भारती ने भी इसी अधिकार के तहत अपनी बात रखी है। उन्होंने सरकार को चेताया कि यदि नीरज भारती को छोड़ा नहीं गया तो पूरी कांग्रेस सडक़ों पर आकर आंदोलन करेगी। जब उनसे पूछा गया कि वह तो कांग्रेस नेताओं, वीरभद्र, पंडित सुख राम, विक्रमादित्य, जीएस बाली के साथ साथ राहुल गांधी पर भी सोशल मीडिया में तीखी व आपत्तिजनक टिप्पणियां करते रहें तो क्या फिर भी आप उसका समर्थन करते हैं तो इस पर प्रकाश चौधरी ने कहा कि नहीं ऐसी बातें सहन नहीं हो सकती।

30 जून से 4 जुलाई तक होगा प्रदर्शन

पूर्व मंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता रंगीला राम राव ने कहा कि पैट्रोल डीजल की कीमतों में बेतहाशा बढ़ौतरी करके केंद्र सरकार ने आम जनता पर बोझ डाला है, इससे महंगाई बढ़ेगी। कांग्रेस इसकी खिलाफत करेगी और 28 जून से लेकर 4 जुलाई तक हर उपमंडल स्तर पर प्रदर्शन किए जाएंगे व मूल्य वृद्धि के विरोध में ज्ञापन भेजे जाएंगे।