नहीं रहे सुरीली आवाज़ के मालिक SP बालासुब्रमण्यम, 1 दिन में बनाया था 21 गानों का रिकॉर्ड

  • 25 Sep 2020
  • Reporter: समाचार फर्स्ट डेस्क

भारतीय सिनेमा के जाने-माने संगीतकार एसपी बालासुब्रमण्यम का 74 साल की उम्र में निधन हो गया। वह सुरीली आवाज के मालिक और मशहूर संगीत निर्देशक है। उनके देश-दुनिया में लाखों चाहने वाले हैं। एसपी बालासुब्रमण्यम का पूरा नाम श्रीपति पंडितराध्युला बालासुब्रमण्यम है। लोग उन्हें एसपी बालासुब्रमण्यम को एसपीबी अथवा बालु के नाम से भी जाने जाते थे।

एसपी बालासुब्रमण्यम का जन्म 4 जून 1946 को आंध्र प्रदेश में नेल्लोर के मूलपेट में हुआ में हुआ था। वे कोरोनावायरस संक्रमण से जूझ रहे थे। इस बात की जानकारी उनके बेटे चरण एसपी और एमजीएम हॉस्पिटल ने दी। 5 अगस्त को हॉस्पिटल में एडमिट हुए बालू की हालत 48 घंटों से बेहद नाजुक बनी हुई थी और वे लाइफ सपोर्ट सिस्टम पर थे।

एसपी बचपन से इंजीनियर बनने बनना चाहते थे। उनका सपना था कि वह इंजीनियरिंग करके अपने परिवार की जिम्मेदारी उठाए। इसके लिए एसपी बालासुब्रमण्यम ने आंध्रप्रदेश में अनंतपुर की जवाहरलाल नेहरू टेक्नोलॉजिकल यूनिवर्सिटी में दाखिला भी ले लिया था। लेकिन समय को कुछ और ही मंजूर था। इंजीनियरिंग की पढ़ाई के दौरान ही एसपी बालासुब्रमण्यम की तबियत इतनी ख़राब हो गई कि उन्हें पढ़ाई बीच में ही छोड़नी पड़ी।

इसके अलावा उन्हें गाने का भी शौक था। वह संगीत की शिक्षा भी ले रहे थे। ‘रेग्यूलर’ पढ़ाई छोड़ने के बाद भी एसपी बालसुब्रमण्यम संगीत की शिक्षा लेते रहे। एसपी बालासुब्रमण्यम को साल 1964 में ‘एम्चयोर’ गायक के तौर पर एक ‘कॉम्पटीशन’ में पहला इनाम मिला। इसके बाद एसपी बालसुब्रमण्यम ने गायकी के क्षेत्र में ही अपना करियर आगे बढ़ाने का फैसला लिया। एसपी बालसुब्रमण्यम ने साल 1966 में मात्र 20 साल की उम्र में अपने गुरु कोडंदापानी द्वारा बनाई गई फिल्म में गाना गाकर अपने करियर की शुरुआत की थी।

एसपी बालासुब्रमण्यम ने बनाए कई रिकॉर्ड

एसपी बालासुब्रमण्यम ने अपने करियर में 40000 से भी अधिक गाने गाए हैं। उन्होंने पांच भाषाओं तेलुगू, तमिल, कन्नड़, हिंदी और मलयालम में गाने गाए हैं। 8 फरवरी 1981 को एसपी बालासुब्रमण्यम ने सुबह 9 बजे से लेकर रात 9 बजे तक 12 घंटे में 21 कन्नड़ गाने रिकॉर्ड किए थे। यह अपने आप में एक रिकॉर्ड है। एसपी बालासुब्रमण्यम एक दिन में 19 तमिल गाने और 16 हिंदी गाने भी रिकॉर्ड कर चुके हैं।

एसपी बालासुब्रमण्यम के पुरस्कार

साल 1989 में बॉलीवुड फिल्म ‘मैंने प्यार किया’ में ‘दिल दीवाना बिन सजना के माने ना’ गाना गाने के लिए एसपी बालासुब्रमण्यम को बेस्ट मेल प्ले बैक सिंगर का अवॉर्ड मिला था। लता मंगेश्कर के साथ ‘दीदी तेरा देवर दीवाना’ गाना गाने के लिए बालासुब्रमण्यम को फिल्म फेयर स्पेशल अवॉर्ड का सम्मान मिला था। इसके अलावा उनको सर्वश्रेष्ठ पार्श्वगायक के लिए 6 बार राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार से नवाजा गया है। एसपी बालासुब्रमण्यम को 25 बार आन्ध्र प्रदेश सरकार द्वारा तेलुगू सिनेमा में नन्दी पुरस्कार का इनाम दिया गया है।