छत्तीसगढ़ः बीजापुर में सुरक्षाकर्मियों और नक्सलियों के बीच मुठभेड़, 21 जवान लापता

  • 04 Apr 2021
  • Reporter: समाचार फर्स्ट डेस्क

छत्तीसगढ़ में सुरक्षाकर्मियों और नक्सलियों के बीच आज मुठभेड़ हुई है। यहां धुर नक्सल प्रभावित बीजापुर जिले में नक्सलियों के साथ 3 घंटे तक हुई मुठभेड़ के बाद लगभग 21 सुरक्षाकर्मी लापता हैं और 12 अन्य घायल हुए हैं। वहीं पांच सुरक्षाकर्मी शहीद हो गए हैं। स्थिति को देखते हुए सीआरपीएफ के महानिदेशक कुलदीप सिंह ऑपरेशनल कार्य और हालात का जायजा लेने के लिए सुबह छत्तीसगढ़ पहुंचे। लापता 21 सुरक्षाकर्मियों में से 7 कर्मी सीआरपीएफ के हैं।

मुठभेड़ में अब तक 30 घायल जवानों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। इनमें से 23 घायलों को बीजापुर अस्पताल में और 7 को रायपुर के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया है। सभी की हालत खतरे से बाहर बताई जा रही है। वहीं दो जवानों के शव बरामद कर लिए गए हैं। एक रिइंफोर्समेंट पार्टी को मुठभेड़ स्थल पर भेजा गया है। दर्जनभर से ज्यादा नक्सलियों के मारे जाने की खबर है। वहीं, मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने सुरक्षाकर्मियों के शहादत पर शोक व्यक्त किया और मुठभेड़ में घायल हुए सैनिकों के लिए बेहतर इलाज की सुविधा मुहैया करनाने का आदेश दिया।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जवानों के शहादत पर गहरा दुःख जताते हुए कहा कि मेरे विचार छत्तीसगढ़ में माओवादियों से लड़ते हुए शहीद हुए जवानों के परिवारों के साथ हैं। वीर शहीदों की कुर्बानियों को हमेशा याद रखा जाएगा। घायलों के जल्द से जल्द ठीक होने की कामना है।

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने रविवार को मुठभेड़ में 5 जवानों के शहादत पर गहरा दुःख व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि देश उनकी वीरता को कभी नहीं भूलेगा। उन्होंने ट्वीट कर कहा कि छत्तीसगढ़ में नक्सलियों से लड़ते हुए शहीद हुए हमारे बहादुर सुरक्षाकर्मियों के बलिदान को नमन करता हूं। देश उनकी वीरता को कभी नहीं भूलेगा। मेरी संवेदना उनके परिवारों के साथ है। हम शांति और प्रगति के इन दुश्मनों के खिलाफ अपनी लड़ाई जारी रखेंगे। घायलों के जल्द ठीक होने की कामना है।