हमीरपुर: मक्की का FCI कलेक्शन सेंटर खुलवाने की कवायद, किसानों को मिलेगा लाभ

  • 10 Jun 2021
  • Reporter: जसबीर

आगामी सीजन में मक्की की ब्रिकी के लिए किसानों को सहूलियत देने औऱ उनकों केन्द्र सरकार द्वारा जारी किए गए एमएसपी मिल सके, इसके लिए कृषि विभाग ने हमीरपुर जिला में एफसीआई कलेक्शन सेंटर खुलवाने की कवायद शुरू करेगा । कृषि उपनिदेशक हमीरपुर प्रकाश चंद सैनी ने बताया कि एफसीआई सेंटर खुलने से हमीरपुर के जिला हजारों किसानों को लाभ मिलेगा ।

आपको बता दें कि हमीरपुर जिला में हर साल लगभग 80 मैट्रिक टन मक्की की पैदावार होती है और किसानों को फसल की ब्रिकी के लिए निजी एजेटों का सहारा लेना पड़ता है जिससे उन्हें कई बार आर्थिक नुकसान भी होता है ।

इस मामले में डिप्टी डायरेक्टर प्रकाश चन्द सैनी ने कहा कि कांगड़ा जिला में एफसीआई सेंटर बनाया गया है जहां पर किसानों अपने कृषि उत्पाद इकठ्ठे किये हैं जिसका उन्हें लाभ मिला है।  हमीरपुर में भी इस तरह का एफसीआई सेंटर खोलने की उच्च अधिकारियों से शिमला में बात की जाएगी। अगर इस तरह का सेंटर हमीरपुर में खुल जाता है तो किसानों को लाभ पहुंचेगा। हमीरपुर जिला में 37 हजार हेक्टेयर पर फसलें उगाई जाती है। हमीरपुर में खरीफ की फसल में मक्की प्रमुख फसल है।

उन्होंने बताया कि हमीरपुर में लगभग 80 हजार मैट्रिक टन मक्की का उत्पादन होता है और केन्द्र सरकार द्वारा दिए जा रहे एमएसपी किसानों को मिलने से उनको लाभ पहुंचेगा। सरकार की कृषि कोष योजना के अंतर्गत इस साल हमीरपरु जिला में चार एफपीओ को स्थापित किए जाएगें ।  हमीरपुर जिला में किसानों की आय बढ़ाने के लिए किसानों को सब्जियों के उत्पादन के लिए प्रेरित किया जाएगा ताकि उनकी आर्थिकी मजबूत हो। जिला हमीरपुर में पेयजल सिंचाई योजनाओं के तहत 10 प्रतिशत क्षेत्र ही आता है और आगामी समय मे सिंचाई व्यवस्था को बढ़ाने के लिए पीएम कुशल योजना के तहत स्कीमें लगाने की कवायद शुरू की जाएगी।