लाहौल-स्पीति: 4 दिवसीय दौरे पर कांजा पहुंचे मंत्री मार्कण्डेय, क्षेत्र को दी कोरोड़ों की सौगात

  • 09 Jun 2021
  • Reporter: पी. चंद

तकनीकी शिक्षा मंत्री रामलाल मार्कण्डेय काजा खंड के 4 दिवसीय दौरे पर हैं। अपने दौरे के पहले दिन उन्होंने सुमदो, हुरलिंग ताबो, निदांग, माने, लिदांग, ढखर, काजा में लोगों की जन शिकायतें सुनी। वहीं करोड़ों रूपए के शिलान्यास भी किए।  सुमदो में 96.27 लाख रूपये की लागत से जल शक्ति विभाग की  उठाऊ  पेयजल योजना डोगरा स्काउट एंव भारत तिब्बत सीमा पुलिस का शिलान्यास किया गया । इस योजना के माध्यम से 2364 लोगों को पेयजल की सुविधा मिलेगी। ताबो में 1 करोड़ 39 लाख रूपये की लागत से उठाऊ पेयजल योजना का उदघाटन किया। इस योजना से 812 लोगों को सुविधा मिलेगी। इसके लिए एक लाख लीटर से अधिक क्षमता का टैंक का निर्माण किया गया। इसका निरीक्षण भी केबिनट मंत्री ने किया। 

वहीं, निदांग गांव में 83 लाख की लागत से उठाऊ सिंचाई योजना का शिलान्यास किया गया । इस योजना का कार्य आगामी तीन महीनों में पूरा कर लिया जाएगा।  लिंदाग गांव में 73 करोड़ की लागत से बनने वाली जल शक्ति विभाग की उठाऊ पेयजल योजना का शिलान्यास किया । इससे 112 लोगों को लाभ मिलेगा। इसके साथ ही 1 करोड़ 26 लाख रूपये की लागत से  उठाऊ सिंचाई योजना का भी शिलान्यास किया गया। काजा में बाढ़ नियंत्रण कार्य का उद्घाटन किया गया। 

इस मौके पर उन्होंने लोगों की जन समस्याओं को भी सुना और अधिकारियों को निर्देश भी दिए गए। पोह के लोगों ने मोबाईल टावर स्थापित करने की मांग को उठाया। केबिनट ने दो महीने के भीतर उनकी मांग को पूरा करने का आश्वसन दिया है। माने गांव में भी लोगों से मिले और जन शिकायतें सुनी। धंखर में स्थानीय लोगों से मिले। इस मौके पर केबिनेट मंत्री डा राम लाल मार्कण्डेय ने कहा कि स्पीति में सुमदो, ताबो, निदांग, लिदांग, में करोड़ों रुपए की लागत से उठाऊ पेयजल और सिंचाई योजनाओं का शिलान्यास व उद्घाटन किया गया है। इनमें से आगामी कुछ महीने में कार्य पूरा कर लिया जाएगा। 

उन्होंने कहा कि लाहौल स्पीति में लोगों ने नकदी फसलें उगाना शुरू कर दिया है। ऐसे में पहले भी कई सिंचाई योजनाओं को पूरा किया जा चुका। जबकि कुछ योजनाओं का शिलान्यास रखा है जोकि जल्द बनकर जनता को समर्पित कर दी जाएंगी। लाहौल स्पिति पर्यटन की नजर से काफी महत्वपूर्ण है इसलिए पानी की व्यवस्था होना बहुत जरूरी हैं। उन्होंने कहा कि 2017 में ट्राइबल का बजट मात्र 29  करोड़ रुपए था और आज बजट 71 करोड़ रुपए पहुँचा दिया गया है। आगे आने वाले दिनों में प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर लाहुल स्पिति के दौर पर आने वाले है। उस दौरान करोड़ों रूपए की योजनाओं का शिलान्यास और उद्घाटन किया जाएगा।