Follow Us:

19 नवंबर 2021 को लगने जा रहा है सदी का सबसे बड़ा ‘चंद्रग्रहण’

Samachar First |

19 नवंबर 2021 को साल का अंतिम चंद्रग्रहण लगने जा रहा है। पंचांग के अनुसार शुक्रवार कार्तिक महीने की शुक्ल पक्ष की पूर्णिमा को चंद्रग्रहण लगने जा रहा है। इस चंद्रग्रहण को सदी का सबसे लंबा चंद्रग्रहण माना जा रहा है। यह एक खंडग्रास चंद्र ग्रहण होगा। भारत में आंशिक चंद्र ग्रहण होगा जिसके कारण सूतक काल नहीं लगेगा। भारत में यह ग्रहण अरुणाचल प्रदेश और असम के चरण उत्तर-पूर्वी हिस्सों से चंद्रोदय के ठीक बाद बहुत कम समय के लिए दिखाई देगा। जबकि अमेरिका, ऑस्ट्रेलिया, पूर्वी एशिया और उत्तरी यूरोप में यह पूरी तरह नजर आएगा।

भारतीय समय के अनुसार ये ग्रहण सुबह 11 बजकर 34 मिनट से शाम 5 बजकर 33 मिनट तक रहेगा। ये ग्रहण काफी लंबे समय तक रहेगा। ग्रहणकाल की कुल अवधि लगभग 5 घंटे 59 मिनट तक होगी। 19 नवंबर को लेगने वाल ये चंद्रग्रहण इस साल का आखिरी चंद्रग्रहण होगा। इसके बाद अगला चंद्रग्रहण 16 मई 2022 को लगेगा।

वैज्ञानिकों के नजरिए से इस ग्रहण को काफी खास माना जा रहा है। वैज्ञानिको के अनुसार 19 नवंबर को लगने वाल यह चंद्रग्रहण 580 सालों बाद सबसे लंबा आंशिक चंद्र ग्रहण होगा। हालांकि धार्मिक नजरिये से ग्रहण का लगन अशुभ माना गया है। इस ग्रहण का कुछ राशियों पर अच्छा तो कुछ पर नकारात्मक प्रभाव पड़ सकता है।

ग्रहण काल में इन बातों का रखें ध्यान

ग्रहण को लेकर कुछ धार्मिक मान्यताएं भी जुड़ी हैं। कहा जाता है कि ग्रहण काल में गर्भवती महिलाओं को अपना खास ख्याल रखना चाहिए। उन्हें किसी भी प्रकार का कोई काम नहीं करना चाहिए। इस दौरान गर्भवती महिलाओं के साथ अन्य लोगों को भी सुई में धागा नहीं डालना चाहिए। गर्भवती महिलाओं को घर से बाहर नहीं निकलना चाहिए । क्योंकि ग्रहण के दौरान पड़ने वाली रोशनी बच्चे के स्वास्थ्य के लिए सही नहीं होती। ग्रहण के समय कुछ काटना-छिलना नहीं चाहिए। इस दौरान भगवान के मंदिर को ढक कर रख देना चाहिए और पूजा पाठ करना चाहिए।