Follow Us:

‘बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ’ के तहत बेटियों को किया गया सम्मानित, डीसी ने दिलाई शपथ

पी. चंद |

महिला और बाल विकास विभाग की और से 'बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ' के तहत लोगों को जागरूक करने के लिए एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन बचत भवन शिमला में किया गया। कार्यक्रम में दसवीं और बाहरवीं क्लास में सराहनीय प्रदर्शन करने वाली लड़कियों को सम्मानित किया गया।

डीसी शिमला आदित्य नेगी ने बताया कि कार्यशाला में दसवीं और बाहरवीं की होनहार लड़कियों को सम्मानित किया गया। इसके अलावा जिनके घर पर बेटियां पैदा हुई है उन्हें भी कार्यक्रम में सम्मानित किया गया। आज के दौर में लड़कियां किसी भी क्षेत्र में  लड़कों से कम नहीं है। लोगों के मन से रूढ़िवादी सोच को निकालना होगा तभी समाज आगे बढ़ सकता है। लिंग अनुपात के बढ़ता अंतर धीरे-धीरे कम हो रहा है। इस दौरान हस्ताक्षर अभियान भी चलाया गया जिसके द्वारा बेटी और बेटे के भेद को कम किया जा सके। सभी समान है जिसको अवसर मिलेगा वह अवश्य अच्छा करेगा।