सोलन: ड्रग इंस्पेक्टर को दबंगई पड़ी भारी, फार्मा कंपनी की शिकायत पर हुआ सस्पेंड

  • 09 Nov 2018
  • Reporter: पी. चंद, शिमला

सोलन के औद्योगिक क्षेत्र बद्दी में दवा कारोबारियों और निर्माताओं पर धौंस जमाने और दबंगई करने वाले एक ड्रग इंस्पेक्टर को भारी पड़ गई। ड्रग इंस्पेकटर पर कम्पनी मालिकों को डराने, किसी भी फैक्टरी में घुस जाना,
बंद कराने की धमकी देना, दुर्व्यवहार करना और नकली दवा का केस बनाने के आरोप हैं।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री जेपी नड्डा के ऑर्डर पर ड्रग इंस्पेक्टर को सस्पेंड कर दिया गया है। सेंट्रल ड्रग स्टेंडर्ड कंट्रोल (सीडीएससीओ) कार्यालय में तैनात इस इंस्पेक्टर के खिलाफ अब विभागीय जांच होगी।

इस मामले में बरोटीवाला के रैडिका फार्मा ने शिकायत की थी। शिकायत में कहा गया था कि सालभर पहले जेपी नड्डा ने हिमाचल के दवा निर्माताओं को एक्सपोर्ट एनओसी की सुविधा देने के लिए बद्दी में सीडीएससीओ कार्यालय खोला था। सेंट्रल ड्रग इंस्पेक्टर कवियासन ने इस सुविधा का फायदा उठाकर दवा निर्माताओं को डराना धमकाना शुरू कर दिया।

सीडीसीएसओ बद्दी के उपनिदेशक बीके सामंतरे ने कहा कि शिकायत की जांच के बाद स्वास्थ्य मंत्रालय दिल्ली के निदेशक (प्रशासनिक) ने आरोपी इंस्पेक्टर को निलंबित कर दिया है। उन्होंने कहा कि अब विभागीय जांच हो रही है।