शिमला: सांगटी वार्ड का उपचुनाव कांग्रेस-BJP के लिए नाक का सवाल, CPIM की टक्कर से मुकाबला तिकोना

  • 10 Jan 2019
  • Reporter: पी. चंद, शिमला

नगर निगम शिमला सांगटी वार्ड उपचुनाव बीजेपी और कांग्रेस पार्टी के लिए तो प्रतिष्ठा का सवाल बन चुका है। जबकि सीपीआईएम दोनों ही दलों को कड़ी टक्कर देकर अपने कद का अहसास करवाने के लिए जीतोड़ मेहनत कर रही है। सीपीआईएम छोड़कर कांग्रेस की पार्षद रही मीरा शर्मा अपने पद से इस्तीफ़ा देकर अब बीजेपी के समर्थन से चुनाव लड़ रही है। क्योंकि प्रदेश में बीजेपी की सरकार है और जहां चुनाव हो रहा है वह राजधानी के वार्ड का है। ऐसे में बीजेपी के लिए ये चुनाव जीतना नाक का सवाल बन चुका है। परिणामस्वरूप बीजेपी वार्ड चुनाव को जीतने के लिए दिन रात एक कर रही है। चुनाव में शिक्षा मंत्री की साख भी दांव पर लगी हुई है। 

दूसरी तरफ कांग्रेस पार्टी है जिसने शिल्पा चौहान को अपना उम्मीदवार बनाया है। मीरा द्वारा दगा देने के बाद कांग्रेस पार्टी ने आनन-फानन में गांव से शिल्पा को चुनावी मैदान में उतार दिया। भले ही शिल्पा में अनुभव की कमी है लेकिन सांगटी वार्ड कसुम्पटी विधानसभा क्षेत्र में आता है और कसुम्पटी में कांग्रेस के विधायक अनिरुद्ध सिंह की अपनी पैठ है। उनके लिए भी ये चुनाव इज़्ज़त का सवाल है। इसलिए स्वयं अनिरुद्ध सिंह चुनावी प्रचार का जिम्मा संभाले हुए है।

उधर सीपीआईएम के पास खोने के लिए तो कुछ नहीं है लेकिन इस चुनाव में रंजना वर्मा दोनों ही दलों को कड़ी टक्कर दे रही हैं। ये चुनाव तिकोने मुकाबले की तरफ बढ़ता नज़र आ रहा है। सीपीआईएम भी चुनाव जीतने के लिए ख़ूब जोर आजमाइश कर रही हैं। ठियोग सीपीआईएम विधायक राकेश सिंघा भी प्रचार की कमान संभाले हुए हैं। नतीज़तन सांगटी वार्ड का चुनाव काफ़ी दिलचस्प हो गया है। इसलिए सबको अब 12 जनवरी के चुनावी परिणाम का इंतज़ार है।