नयना देवी: श्रावण अष्टमी मेले की तैयारियां पूरी, 1200 जवान संभालेंगे सुरक्षा का जिम्मा

  • 30 Jul 2019
  • Reporter: सुनिल ठाकुर, बिलासपुर

उत्तरी भारत के विश्व बिख्यात शक्ति पीठ श्री नयना देवी जी में श्रावण अष्टमी मेला की तैयारियां पूरी पूरी हो चुकि हैं। मां के दरवार को दुल्हन की तरह सजाया गया है। मां के दरवार का मनमोहक दृश्य श्रद्धालुओं को खूब भा रहा है।  इस बार पंजाब के खन्ना और रोपड़ के श्रद्धालुओं ने मंदिर की सजाबट का कार्य बखूबी किया है। श्री नयना देवी जी में वीरवार से आस्था का  सैलाब उमडेगा। श्रावण  मास के नवरात्रों के सुअवसर पर हर वर्ष की तरह इस बार भी लाखों की संख्या में श्रद्धालू मां के चरणों में नतमस्तक होंगे।

इम बारे में जानकारी देते हुए मंदिर न्यास अध्यक्ष सुभाष गौतम ने बताया कि मेलों के प्रबंधों के लिए सभी समितियों के साथ अंतिम समीक्षा की और सभी प्रबंधों को अतिम रूप दे दिया है।  सभी प्रबंधो को सुचारू रूप से चलाने के लिए सभी विभागों को दिशा निर्देश जारी कर दिए हैं । 1 अगस्त  से 10 अगस्त तक चलने वाले इन नवरात्रों के लिए नयना देवी को 9 सेक्टरों में बांटा गया है । एडीएम बिलासपुर मेला अधिकारी और एसपी बिलासपुर मेला पुलिस अधिकारी होंगे।  इस बार भी लगभग 1200 पुलिस जवान सुरक्षा का जिम्मा संभालेंगे।

सुरक्षा के लिहाज से पूरे नयना देवी परिसर में 82 सीसीटीवी लगाए गए हैं। मेले मे यात्रियों, स्थानीय लोगों और टेक्सी चालकों की गाड़ियों के लिए अलग से परमिट जारी किये जायेंगे । न्यास अध्यक्ष ने बताया कि टेक्सी वालों को सफेद कार्ड, लंगर वाली गाड़ियों को पीला कार्ड और लोकल व स्टाफ की गाड़ियों के लिए हरा कार्ड जारी किया गया है। इसके माध्यम से ही गाड़ियां मन्दिर गुफ्फा तक आ जा सकेंगी ।

उन्होंने बताया कि सेवाद्लों के लोगों को उधर मन्दिर कार्यालय के अनुसार  मंदिर में  लगभग 300 अस्थाई कर्मचारियों का चयन किया जा रहा है। हर कर्मचारी को श्रद्धालुओं की श्रधा व भावना का ध्यान रखना एवं हर सुविधा प्रदान करने को कहा गया है । कोताही वरतने वाले करमचारी पर तुरंत कार्यवाई होगी । न्यास के अनुसार मंदिर सुबह 2 बजे खुलेगा तथा 12 बजे रात को बंद होगा ।