पहल: कोविड रोगियों के उपचार के साथ-साथ मनोबल भी बढ़ा रहे डॉक्टर

  • 05 May 2021

सरकार, प्रशासन और मेडिकल स्टाफ अस्पतालों में उपचाराधीन कोविड संक्रमित लोगों के उपचार के साथ साथ उनका मनोबल बढ़ाने के लिए पहल कर रहा है। मेडिकल कॉलेज टांडा में दस दिन पहले उपचार के लिए भर्ती हुई लंबागांव क्षेत्र की कोरोना संक्रमित एक महिला की खुशी का उस समय कोई ठिकाना नहीं रहा जब पीपीई किट्स पहने डॉक्टर और पैरामेडिकल स्टाफ ने वार्ड में जाकर हैप्पी बर्थ डे का गीत गुनगुनाया और केक काटकर खुशियां मनाईं, क्योंकि बुधवार को उक्त महिला का जन्म दिन था।

मेडिकल कॉलेज टांडा के प्रिंसिपल डा भानू अवश्थी ने कहा कि मेडिकल कॉलेज टांडा में उपचाराधीन कोविड संक्रमित रोगियों की सही उपचार और उचित देखभाल के लिए हरसंभव कदम उठाए जा रहे हैं। इसके साथ ही रोगियों का मनोबल बना रहे इसके लिए डॉक्टर और पैरामेडिकल स्टाफ नियमित तौर पर रोगियों के साथ सीधा संवाद कायम कर रहे हैं ताकि सभी रोगी कोरोना को हराकर सकुशल घर पहुंच सकें।

उन्होंने बताया कि लंबागांव क्षेत्र की तीस वर्षीय महिला 24 अप्रैल को करोना से गंभीर रूप से संक्रमित स्थिति में अस्पताल में भर्ती हुई थी तथा अब उसकी हालत में लगभग पूरा सुधार हो चुका है। उक्त तीस वर्षीय महिला ने भी मेडिकल कालेज टांडा प्रबंधन तथा सरकार का धन्यवाद करते हुए कहा कि मेडिकल कालेज टांडा में रोगियों की उचित देखभाल सुनिश्चित की जा रही है तथा मेडिकल स्टाफ भी दिनरात रोगियों की बेहतरीन तरीके से सेवा में तत्पर है।  

उपायुक्त राकेश प्रजापति ने कहा कि कांगड़ा जिला में कोविड के उपचार के लिए निर्धारित कोविड अस्पतालों में बेहतर सुविधाएं उपलब्ध करवाने के निर्देश दिए गए हैं तथा रोगियों को किसी भी तरह की दिक्कत न हो इस के लिए अतिरिक्त मेडिकल तथा पैरामेडिकल स्टाफ तैनात किया गया है। उन्होंने कहा कि कोविड रोगियों के मन में किसी भी तरह का भय न हो इस के लिए भी मेडिकल तथा पैरामेडिकल स्टाफ काउंसलिंग भी कर रहा है। उपायुक्त राकेश प्रजापति ने कहा कि कोरोना महामारी से निपटने के लिए प्रशासन, स्वास्थ्य विभाग के साथ साथ सभी नागरिकों का रचनात्मक सहयोग भी जरूरी है।