शिक्षा मंत्री का बड़ा खुलासा, शिक्षा विभाग और बैंक कर्मियों की मिलीभगत से हुआ छात्रवृति घोटाला

  • 05 Dec 2018
  • Reporter: रविंद्र, ऊना

पीजी कॉलेज ऊना के 50 साल पूरे होने पर कॉलेज के गोल्डन जुबली कार्यक्रम में भाग लेने आए शिक्षा मंत्री सुरेश भारद्वाज ने छात्रवृति घोटाले को लेकर सनसनीखेज खुलासा किया है। शिक्षा मंत्री ने खुलासा करते हुए माना है कि इस घोटाले में शिक्षा विभाग और बैंक कर्मियों की भी मिलीभगत है। बरहाल, इस मामले में एफआईआर दर्ज है और मंत्री ने प्राथमिक जांच के बाद मामला सीबीआई को सौंपने का भी दावा किया है।

गौरतलब है कि इस कार्यक्रम के आयोजन से पहले ही नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्निहोत्री ने सरकार द्वारा विद्यार्थियों को वर्दी और लैपटॉप नहीं दिए जाने का आरोप लगाया था, जिसके बाद शिक्षा मंत्री सुरेश भारद्वाज ने पुरानी वर्दी को स्मार्ट वर्दी में बदल दिए जाने की बात कहते हुए इसके लिए टेंडर प्रक्रिया जारी होने का दावा किया है।

उन्होंने पिछली कांग्रेस सरकार के कार्यकाल में भी घोषित लैपटॉप मौजूदा सरकार द्वारा दिए जाने का दावा किया, जबकि मौजूदा वित्तीय वर्ष के घोषित लैपटॉप मार्च के बाद दिए जाने का भरोसा दिया है। उन्होंने छात्र हित में सभी ज़रूरी कदम उठाये जाने का आश्वासन भी दिया।