देश के छः अल्पसंख्यक समुदायों के पिछड़े मेधावियों को छात्रवृत्ति देगी केंद्र सरकार

  • 13 Aug 2019
  • Reporter: पी. चंद

देश के छः अल्पसंख्यक समुदायों के मेधावी विद्यार्थियों को केन्द्र सरकार छात्रवृत्ति देगी। जिसमें बौद्ध, ईसाई, जैन, मुस्लिम, सिख और जोरेस्ट्रेन (पारसी समुदाय) के अल्पसंख्यक समुदाय के मेधावी छात्रों को शामिल किया गया है। यह छात्रवृत्ति आर्थिक रूप से पिछड़े हुए मेधावी विद्यार्थियों को दी जाएगी। जो देश के शिक्षण संस्थानों में शिक्ष ग्रहण कर रहे हो। यह छात्रवृत्ति अल्संख्ययक मेधावी छात्रों को सरकारी और मान्यता प्राप्त गैर सरकारी विश्वविद्यालय, संस्था, महाविद्यालय और स्कूलों में पढ़ने पर मिलेगी।

इस बारे में जानकारी देते हुए राज्य के उच्च शिक्षा विभाग के प्रवक्त्ता ने बताया कि राष्ट्रीय छात्रवृत्ति पोर्टल की शुरूआत 15 जुलाई, 2019 से हो गई है। राष्ट्रीय छात्रवृत्ति पोर्टल के माध्यम से सत्र 2019-20 के लिए ऑनलाईन आवेदन किया जा सकता है। भारत सरकार अल्पसंख्यक कार्य मंत्रालय की दसवीं पूर्व, दसवीं पश्चात् और मेरिट कम मेन्स योजना के अंतर्गत अल्पसंख्यकों की छात्रवृत्ति में शत-प्रतिशत भुगतान केन्द्र सरकार करेगी।

दसवीं पूर्व छात्रवृत्ति के लिए आवेदन की अंतिम तिथि 15 अक्तूबर 2019 है। दसवीं उपरांत और मेरिट कम मेन्स के लिए छात्रवृत्ति आवेदन की अंतिम तिथि 31 अक्तूबर, 2019, दसवीं पूर्व प्रथम स्तर के आवेदन की जांच की अंतिम तिथि 31 अक्तूबर, 2019 द्विस्तरीय दसवीं पूर्व छात्रवृत्ति आवेदन की जांच की अंतिम तिथि 15 नवम्बर, 2019, दसवीं उपरांत और मेरिट कम मेन्स छात्रवृत्ति की आवेदन जांच की अंतिम तिथि 15 नवम्बर, 2019 और द्वि-स्तरीय दसवीं उपरांत और मेरिट कम मेन्स छात्रवृत्ति की आवेदन जांच की अंतिम तिथि 30 नवम्बर, 2019 है।

राष्ट्रीय छात्रवृत्ति के लिए एक मोबाईल ऐप को भी आरम्भ कर दिया गया है, जिसका उपयोग दूरदराज के आवेदक कर सकते हैं। इस योजना के अंतर्गत केवल ऑनलाईन आवेदनों को स्वीकार किया जाएगा। अल्पसंख्यक मंत्रालय द्वारा यह छात्रवृत्ति प्रत्यक्ष लाभ हस्तांतरण के द्वारा सीधे लाभार्थी के खाते में जाएगी।